Blog single photo

कंगारूओं को धोने के लिए बेताब टीम इंडिया का दूसरा तेंदुलकर

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर हर किसी की निगाहें रहने वाली है टीम इंडिया के इस बल्लेबाज पर हैं। जी हां, 19 साल का पृथ्वी शॉ इसे क्रिकेट का कालचक्र ही माना जाएगा। क्योंकि पृथ्वी की तुलना सचिन तेंदुलकर से हो रही है। सचिन भी जब पहली बार ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैदान पर उतरे थे तो उनकी उम्र भी महज 19 साल थी। 1992 के ऑस्ट्रेलिया दौरे पर सचिन ने सिडनी टेस्ट में शतक लगा कर अपने पहले दौरे को यादगार बनाया था।

                                                                                                                Image Source: Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (27 नवंबर): ऑस्ट्रेलिया दौरे पर हर किसी की निगाहें रहने वाली है टीम इंडिया के इस बल्लेबाज पर हैं। जी हां,  19 साल का पृथ्वी शॉ इसे क्रिकेट का कालचक्र ही माना जाएगा। क्योंकि पृथ्वी की तुलना सचिन तेंदुलकर से हो रही है। सचिन भी जब पहली बार ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैदान पर उतरे थे तो उनकी उम्र भी महज 19 साल थी। 1992 के ऑस्ट्रेलिया दौरे पर सचिन ने सिडनी टेस्ट में शतक लगा कर अपने पहले दौरे को यादगार बनाया था।अब सचिन का ये फेवरेट युवा बल्लेबाज 19 साल की उम्र में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया में खेलने के लिए तैयार है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज का पहला 6 दिसंबर से एडिलेड में खेला जाएगा। एडिलेड टेस्ट को यादगार बनाने के लिए पृथ्वी शॉ कितने बेताब हैं। इसकी गवाही इस तस्वीर से मिलती है। भले ही टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी 20 सीरीज खेल रही है।लेकिन पृथ्वी शॉ बैटिंग कोच संजय बांगर के साथ सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर पसीना बहा रहे हैं। दरअसल पृथ्वी की नजर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया में बड़ी पारी खेलने पर है। पृथ्वी शॉ ने वेस्टइंडीज के खिलाफ डेब्यू टेस्ट में शतक लगा कर ये दिखा दिया था कि वो किस तरह सचिन तेंदुलकर की राह पर चलने के लिए तैयार हैं।वैसे न्यूजीलैंड ए के खिलाफ न्यूजीलैंड की तेज पिचों पर पृथ्वी ने शानदार बल्लेबाजी की है। न्यूजीलैंड ए के खिलाफ पहली पारी में पृथ्वी ने 62 रन और दूसरी पारी में 50 रनों की पारी खेली। पृथ्वी ने अपनी बल्लेबाजी से ये साफ कर दिया कि वो विदेशी मैदान पर भी नेचुरल बैटिंग के लिए तैयार हैं। अबदेखने वाली बात होगी कि क्या सचिन तेंदुलकर की तरह पृथ्वी शॉ भी अपने पहले ऑस्ट्रेलिया दौरे को यादगार बना पाते हैं नहीं।

Tags :

NEXT STORY
Top