'योग से आजादी का अहसास करती हैं महिला कैदी'

नई दिल्ली (6 अगस्त): केन्या में योग के माध्यम से अपराधी लोगों को समाज की मुख्यधारा से जोड़ने का प्रयास हो रहा है।

- केन्या के नेरोबी में महिला जेल में योग क्लास शुरू की गई हैं। 

- जेल प्रशासन का मानना है कि योग से महिला कैदी अनुशासित हो रही हैं।     - डोरोशिया बेस्टर करीब एक साल से केन्या की जेल में ड्रग ट्रेफिकिंग केस में बंद है। 

- वो अक्सर साउथ अफ्रीका में अपने घर के बारे में सोचती है। पहले के कुछ महीने मुश्किल से गुजरे।

- लेकिन जब से उसने योग शुरु किया है, जब से वो सामान्य हो रही है। 

- केन्या की एक सांसद आसमां कामामा कहती हैं कि  सरकार के पीस विदिन प्रिजंस प्रोजेक्ट में महिला कैदियों को योग  सिखाया जा रहा है। 

वो कहती हैं कि योग का ही कमाल है कि महिला कैदी जेल के लंबे समय को शांति से बिता रही हैं।   - कैदी बेसब्री से योग इंस्ट्रक्टर का इंतजार करती हैं। हफ्ते के दो दिन उन्हें यह आजादी जैसे लगते हैं।