नोटबंदी के लिए प्रधानमंत्री मोदी को माफी मांगनी चाहिए: कांग्रेस


नई दिल्ली ( 31 अगस्त ): कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद ने नोटबंदी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने नोटबंदी के 4 कारण बताए थे और सभी गलत साबित हुए। 

उन्होंने कहा कि नेपाल और भूटान में जो पैसा है वो और कोआपरेटिव बैंक से पैसा वापस आ जाने पर जो कुछ बचा है वो भी आ सकता है। कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने गुरुवार को कहा, '15 अगस्त को प्रधानमंत्री ने बयान दिया था कि 3 लाख करोड़ का काला धन मिला है। उन्होंने झूठ बोला था। पीएम को गलती स्वीकार करनी चाहिए। सच को स्वीकार करना चाहिए।' 

शर्मा ने कहा, 'कहां गया वह 4-5 लाख करोड़ रुपया? हर कदम पर सरकार ने झूठ बोला। ग्रामीण बैंक से पैसा नहीं लिया गया। किसानों के साथ नाइंसाफी हुई। प्रधानमंत्री ने वायदाखिलाफी की और आम लोगों को धोखा दिया। तय समय में भी लोगों से पैसा वापस ही नहीं लिया गया।'

उन्होंने कहा कि कोई आतंकी, अपराधी, तस्कर खाता खोलकर वापस नहीं करता। पीएम मोदी के पास इसका क्या जवाब है। कांग्रेस नेता ने कहा, 'देश में 96 फीसदी कैश लेनदेन होता है। जहां तक नकली नोटों की बात है, उन्होंने (सरकार) दावा किया कि 15 लाख 28 हजार वापस आ गया। रिजर्व बैंक ने कहा कि केवल 41 करोड़ नकली नोट हैं। इसके लिए भारत में आर्थिक अराजकता लाई गई। भारत की जीडीपी को बड़ा नुकसान हुआ। 1.5 प्रतिशत जीडीपी टूट गई। यह प्रधानमंत्री का निजी फैसला था। इनको उम्मीद थी कि बड़ा पैसा वापस नहीं आएगा इसीलिए सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से कहा कि टेरर फंडिंग का कम से कम 4-5 लाख करोड़ रुपया है जो वापस नहीं आएगा। आज सरकार इसपर क्या कहेगी?'