मोदी केयर: राज्यों को छूट मिलने की संभावना, इलाज की दरों में हो सकता है बदलाव

नई दिल्ली (6 जून): पीएम मोदी की महत्वाकांक्षी योजनाओं में से एक आयुष्मान भारत नैशनल हेल्थ प्रॉटेक्शन स्कीम के तहत इलाज के खर्चे में कुछ राज्यों में इजाफा हो सकता है। ज्यादा से ज्यादा राज्यों को इस योजना का विस्तार करने के लिए भाजपा की मोदी सरकार ने राज्यों को स्कीम के अनुसार तय दरों में बदलाव करने की इजाजत दे दी है।  मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मोदी केयर योजना में बीमारियों के इलाज के लिए निर्धारित रकम कम रखी गई है, जिसे लेकर कुछ कॉर्पोरेट अस्पताल अपनी चिंता पूर्व में जाहिर कर चुके हैं। एनएचपीएस चीफ एग्जिक्यूटिव इंदु भूषण ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि राज्य अपने मौजूदा पैकेज को ही जारी रख सकते हैं। अगर राज्यों के पैकेज 10 फीसदी स्लैब के अदर आते हैं तो राज्य अपने हिसाब से कीमतों में बदलाव कर सकते हैं।गौरतलब है कि कुछ राज्यों ने ने मोदी केयर स्कीम का जमकर विरोध किया है। विरोध करने वाले राज्यों का तर्क है कि मौजूदा व्यवस्था में उनके राज्य में इस तरह की स्कीम चल रही है।