फसलों के लिए 1 हजार करोड़ रुपये का 'मूल्य स्थिरीकरण कोष' बनाएगी सरकार: शिवराज सिंह

नई दिल्ली ( 7 जून ): मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले में आंदोलनकारी किसानों पर पुलिस फायरिंग में 5 किसानों की मौत के बाद राज्य में भारी हंगामे का मौहाल है। कर्जमाफी, खेती के लिए बिना ब्याज कर्ज, किसानों के लिए पेंशन योजना समेत अन्य मांगों को लेकर किसानों का आंदोलन मध्य प्रदेश में जारी है। राज्य के 4 जिलों रतलाम, नीमच, मंदसौर और उज्जैन में मोबाइल इंटरनेट सेवा बंद किये गए हैं।

इस पूरे घटनाक्रम पर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर किसानों से शांति बनाए रखने की अपील की है। उन्होंने कहा मैं खुद एक किसान हूं और किसानों की परेशानी समझता हूं। आप निश्चिंत रहें, आपकी सारी बातों पर सरकार अमल कर रही है।

शिवराज सिंह ने ऐलान किया है कि सरकार ग्रीष्मकालीन मूंग 5,225 रुपए प्रति क्विंटल की दर से प्रदेश सरकार 10 से 30 तक खरीदेगी। उन्होंने कहा कि हम 1 हजार करोड़ की लागत से 'मूल्य स्थिरीकरण कोष' बना रहे हैं। यह कोष किसानों को उनके उत्पाद की सही कीमत दिलाने में मददगार होगा।

मध्य प्रदेश सरकार किसानों की सरकार है। हमने किसानों के हित में कई बड़े निर्णय लिए हैं। हम किसानों के हर दुख दर्द में उनके साथ है।

उन्होंने कहा कि मेरी किसान भाईयों से अपील है कि धैर्य रखें। हम मिलकर बैठकर हर समस्या का समाधान निकाल लेंगे। डिफाल्टर किसानों के ऊपर ऋण का भार कम करने के लिए हम शीघ्र ''कृषक ऋण समाधान योजना'' लाएंगे।

शिवराज ने कहा कि कृषि उत्पादों की मूल्य की गणना हेतू मध्य प्रदेश कृषि लागत व विपणन आयोग का गठन कर रहे हैं ताकि किसानों की फसल का उचित मूल्य सुनश्चित कर सकें।