अरुणांचल प्रदेश से राष्ट्रपति शासन हटा

नई दिल्ली (19 फरवरी): अरुणांचल प्रदेश से राष्ट्रपति शासन हटा लिया गया है। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बुधवार को बैठक के बाद अरुणाचल प्रदेश में लगे राष्ट्रपति शासन को खत्म करने की सिफारिश की थी। राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने शुक्रवार को इस सिफारिश को मंजूरी दे दी।

गुरुवार को अरुणांचल प्रदेश में राष्ट्रपति शासन हटाने का रास्ता साफ हो गया था। गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट ने एक दिन पहले राज्य में यथास्थिति बनाए रखने के अपने आदेश को वापस ले लिया। बता दें, केंद्र सरकार ने बुधवार को शीर्ष अदालत के आदेश के मद्देनजर राष्ट्रपति शासन हटाने के अपने फैसले को रोक दिया था। अब राष्ट्रपति शासन हटाने से राज्य में नई सरकार के गठन का रास्ता साफ हो गया है।

गुरुवार को मीडिया में आई रिपोर्ट के मुताबिक, न्यायमूर्ति जगदीश सिंह केहर की अगुवाई वाली पीठ ने मूल दस्तावेज का निरीक्षण किया। जिसमें पाया गया कि पूर्व विधानसभा अध्यक्ष नाबाम रेबिया ने जिन 14 विधायकों को अयोग्य ठहराया था, उन्हें नोटिस नहीं जारी किया गया था। इसके बाद शीर्ष कोर्ट ने यथास्थिति बनाए रखने के अपने आदेश को वापस ले लिया।

सुप्रीम कोर्ट ने गुवाहाटी हाईकोर्ट की तरफ से 14 विधायकों को अयोग्य घोषित करने पर रोक लगाने के अंतरिम फैसले को बरकरार रखा। सु्प्रीम कोर्ट ने हाई कोर्ट को निर्देश दिया कि वह इस मामले पर 22 फरवरी से सुनवाई शुरू करते हुए दो हफ्तों में इसे पूरी करे। कोर्ट ने कहा कि इस दौरान जो भी कदम उठाए जाएंगे, वह हाईकोर्ट के आखिरी फैसले पर निर्भर करेगा।