राष्ट्रपति चुनाव की सरगर्मियां तेज, सोनिया ने लालू से फोन पर की बात

नई दिल्ली (17 मई): जुलाई में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव को लेकर सियासी हलचल तेज हो गई है। सत्ता पक्ष जहां राष्ट्रपति के उम्मीदार को लेकर फिलहाल अपना पत्ता खोलने के मूड में नहीं दिख रहा है वहीं इस मुद्दे पर तमाम विपक्षी पार्टियां लामबंद होते दिख रही है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी इस मुद्दे पर लगातार विपक्षी खेमों को एकमंच पर लाने की कवायद में जुटी हैं। सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक इसी कड़ी में सोनिया गांधी ने आज आरजेडी अध्यक्ष लालू यादव से फोन पर बात की।


दरअसल कांग्रेस गैर भाजपाई दलों के साथ मिलकर संयुक्त रूप से राष्ट्रपति का उम्मीदवार पेश करने की कोशिश कर रही है। जिसके चलते सोनिया गांधी और विपक्षी दलों के नेताओं से मुलाकात भी कर रही हैं। राष्ट्रपति चुनाव पर विपक्षी खेमों की इस कोशिश को 2019 से पहले महागठबंधन के ड्राई रन के रूप में देखा जा रहा है। इसी मसले को लेकर मंगलवार को सोनिया गांधी ने तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से भी मुलाकात की थी। सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक विपक्षी खेमों में गोपाल कृष्ण गांधी, मीरा कुमार, शरद पवार, शरद यादव और मौजूद राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के नाम पर भी चर्चा की जा रही है।


आपको बता दें कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रणब मुखर्जी को दूसरी बार राष्ट्रपति बनाने की बात कही है। नीतीश कुमार ने कहा कि बीजेपी को दूसरे दलों से बात करनी चाहिए और प्रणब मुखर्जी के नाम पर सहमति बनानी चाहिए। हालांकि मुख्य विपक्षी कांग्रेस ने दूसरे कार्यकाल के लिए मुखर्जी को समर्थन देने के मुद्दे पर गेंद बीजेपी के पाले में डाल दी। कांग्रेस ने कहा कि इस बारे में सत्तारूढ़ पार्टी को फैसला करना है। कांग्रेस ने साफ कहा है कि संयुक्त उम्मीदवाद उतारने के लिए विपक्षी दलों के बीच आम-सहमति बनेगी।