राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोटिंग खत्म, कोविंद का पलड़ा भारी

नई दिल्ली(17 जुलाई): देश का अगला यानी 14वां राष्ट्रपति कौन होगा ये तो 20 जुलाई को वोटों की गिनती के बाद ही पता चलेगा। आज राष्ट्रपति चुनाव के तहत देशभर में वोट डाले गए। संसद के दोनों सदनों में जहां सांसदों की वोटिंग की व्यवस्था की गई थी, वहीं राज्य विधानसभाओं में वहां के निर्वाचित सदस्यों के लिए भी वोट डालने की व्यवस्था थी। आपको बता दें राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का कार्यकाल 24 जुलाई को खत्म हो जाएगा।

हालांकि इस रेस में एनडीए के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद का पलड़ा विपक्षी मीरा कुमार पर भारी दिख रहा है। संख्या बल के मुताबिक 63 फीसदी मतों के साथ कोविंद की जीत तय मानी जा रही है।

 राष्ट्रपति चुनाव में कुल 4896 वोटर हैं, जिसमें 776 सांसद हैं जबकि 4120 विधायक हैं। खास बात यह है कि इस बार मध्यप्रदेश के बीजेपी विधायक नरोत्तम मिश्रा को आयोग्य ठहराए जाने की वजह से अब कुल वोट 4895 ही रह गया है। राष्ट्रपति चुनाव में कुल पड़ने वाले वोटों की संख्या दस लाख 98 हज़ार 903 है। एनडीए प्रत्याशी रामनाथ कोविंद को 63 फीसदी वोट मिलने की उम्मीद है।