'राष्ट्रपति चुनाव को जातीय रंग देना शर्मनाक'


नई दिल्ली(2 जुलाई): राष्ट्रपति पद के लिए विपक्ष की साझा उम्मीदवार मीरा कुमार ने चुनाव को 'दलित बनाम दलित' का रंग दिए जाने को शर्मनाक बताया है।


- उन्होंने कहा, 'जब कोविंद जी और मैंने नामांकन भरा तो यह जाति का मामला बन गया। यह शर्मनाक है कि राष्ट्रपति चुनाव दलित बनाम दलित में तब्दील हो चुका है।'


- मीरा कुमार ने कहा कि उन्हें 17 विपक्षी पार्टियों ने आम सहमति से राष्ट्रपति उम्मीदवार चुना। उन्होंने कहा कि विपक्ष की यह एकता वैचारिक बुनियाद पर है।


- आपको बता दें कि एनडीए की तरफ से राष्ट्रपति पद के लिए बिहार के पूर्व राज्यपाल रामनाथ कोविंद को उम्मीदवार बनाए जाने के ऐलान के बाद कांग्रेस की अगुवाई में 17 विपक्षी पार्टियों ने पूर्व लोकसभा स्पीकर मीरा कुमार को अपना साझा उम्मीदवार घोषित किया।