संसद के संयुक्त सत्र को आज संबोधित करेंगे राष्ट्रपति, मोदी के 'नए भारत' की रुपरेखा सामने रखेंगे

KovindImage Credit: Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (20 जून): राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद आज संसद के दोनों सदनों के संयुक्त सत्र को संबोधित करेंगे। राष्ट्रपति सुबह 11 बजे सेंट्रल हॉल में लोकसभा और राज्यसभा के सांसदों को संबोधित करेंगे। परंपरा रही है नई लोकसभा के पहले सत्र में राष्ट्रपति संसद के दोनों सदनों को संबोधित करते हैं। अपने अभिभाषण में राष्ट्रपति सरकार की भावी योजनाओं और उसके एजेंडे को देश के सामने रखेंगे। इसी के साथ आज से राज्यसभा का सत्र भी शुरु हो जाएगा, जो 26 जुलाई तक चलेगा।

अभिभाषण में  राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद अपने सरकार की भावी योजनाओं और उसके एजेंडे को देश के सामने रखते है। उम्मीद की जा रही है अपने संबोधन में राष्ट्रपति 2022 तक नरेन्द्र मोदी के नये भारत बनाने की रुपरेखा देश के सामने रखेंगे जिसमें कृषि, रोजगार, सुरक्षा और विदेशी नीति जैसे मुद्दे शामिल किये जाएंगे। राष्ट्रपति के अभिभाषण खत्म होने के आधे घंटे बाद लोकसभा और राज्यसभा फिर बैठेगी। उसके बाद उनके अभिभाषण की प्रति पटल पर रखने के बाद दोनों सदनों की कार्यवाही शुक्रवार तक के लिए स्थगित हो जाएगी।

राज्यसभा की बैठक आज से शुरु होगी। वहीं 17वीं लोकसभा का पहला सत्र 17 जून से शुरु हो चुका है। दोनों सदनों की बैठक 26 जुलाई तक चलेगी। सत्र शुरू होने के शुरुआती तीन दिनों तक लोकसभा के नवनिर्वाचित सदस्यों को शपथ दिलाई गई और इसी वजह से राज्यसभा की बैठक आज से शुरु होंगी। संसद का यह सत्र 26 जुलाई तक चलेगा। 4 जुलाई को वित्त मंत्रालय का आर्थिक सर्वेक्षण आएगा। जबकि 5 जुलाई को पहली बार महिला वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण बजट पेश करेंगी।

वहीं आज शाम प्रधानमंत्री मोदी  लोकसभा और राज्यसभा के सभी सांसदों के साथ बैठक करेंगे। इस बैठक में  संसद को प्रभावी रूप से चलाने पर चर्चा होगी। बैठक के बाद सांसदों के साथ पीएम के डिनर का भी कार्यक्रम है।