राष्ट्रपति चुनावः रणनीति बनाने में जुटीं सोनिया, ममता, माया और स्टालिन से करेंगी मुलाकात

नई दिल्ली ( 4 मई ): राष्ट्रपति पद के चुनाव में विपक्षी एकता बनाने के लिए कांग्रेस सक्रिय हो गई है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी जल्द ही पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, बसपा सुप्रीमों मायावती और डीएमके नेता स्टालिन से मुलाकात करेंगी। कांग्रेस अध्यक्ष ने राष्ट्रपति चुनाव को लेकर सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव और राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव से भी बात की है।


इस बीच, बुधवार को उन्होंने जम्मू कश्मीर के पूर्व CM व नैशलन कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला से मुलाकात की। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के साथ पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी राष्ट्रपति चुनाव को लेकर सक्रिय है। राहुल गांधी ने उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से बात की है।


पार्टी के एक नेता ने कहा कि राहुल गांधी ने एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार से भी फोन पर बात की है। ममता बनर्जी भी जल्द कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से मिलेगीं। डीएमके नेता स्टालिन भी कांग्रेस अध्यक्ष और उपाध्यक्ष से मिल सकते हैं। खबरों के मुताबिक अभी राष्ट्रपति चुनाव को लेकर शुरुआती चर्चा हो रही है। जरुरत पड़ी तो जल्द सभी नेताओं की एक साथ बैठक हो सकती है।


सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी ने दो दिन पहले एक कार्यक्रम में राष्ट्रपति पद के चुनाव को विपक्षी एकता की अग्निपरीक्षा करार दिया था। उनका कहना था कि विपक्ष राष्ट्रपति पद के चुनाव में एकजुट रहा तो अगले लोकसभा चुनाव में महागठबंधन की संभावनाएं बढ जाएगीं। समाजवादी चिंतक मधु लिमये के जन्मदिन पर हुए इस कार्यक्रम में कई विपक्षी दलों के नेता शामिल हुए थे।