नोटबंदी से सरकार ने आतंक-कालेधन की फंडिंग पर लगाई लगाम- राष्ट्रपति

नई दिल्ली (31 जनवरी): राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के दोनों सदनों के संबोधन के साथ संसद के बजट सत्र की शुरुआत हो गई है। प्रणब मुखर्जी ने केंद्र सरकार की योजनाओं और उनकी उपलब्धियों को सामने रखा। बीते साल नोटबंदी के फैसले से पैदा हुई नकदी की किल्लत का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार और काले धन के खिलाफ इस अभियान को लेकर देश के नागरिकों, खास तौर पर कमजोर तबके द्वारा दिखाई गई सहनशीलता सराहनीय है। 

नोटबंदी से सरकार ने कालेधन के खिलाफ बड़ी मुहिम छेड़ी और बैंकिंग से भी जनता को जोड़ने की कोशिश की। साथ ही राष्ट्रपति ने कहा कि नोटबंदी से सरकार ने आतंक-कालेधन की फंडिंग पर लगाम लगाई।