प्रीति महापात्रा ने यूपी से राज्यसभा के लिए भरा पर्चा, मुकाबला हुआ दिलचस्प

नई दिल्ली (31 मई): यूपी में राज्यसभा उम्मीदवारों के बीच मुकाबला दिलचस्प होता दिखाई दे रहा है। यहां से प्रीति महापात्रा ने बतौर निर्दलीय राज्यसभा का नामांकन दाखिल किया। इस दौरान उनके साथ बीजेपी समेत एक सपा का निर्दलिय विधायक मौजूद था।

प्रीति के प्रस्तावकों में समाजवादी पार्टी के बागी विधायक रामपाल सहित पांच बीजेपी और पांच निर्दलीय विधायक शामिल हैं। अपना दल के आरके वर्मा, रामपाल यादव, निर्दलीय विधायक फतेह बहादुर सिंह, बीजेपी विधायक सलिल विश्नोई, बावन सिंह, बीजेपी विधायक उपेंद्र तिवारी, आशुतोष टंडन, बीजेपी विधायक कपिल देव, विधायक बाला प्रसाद अवस्थी, कृष्णा पासवान प्रस्तावक बने। प्रीति के नामांकन दाखिल करने के साथ ही तय हो गया कि अब यूपी में राज्यसभा की 11 सीटों के लिए वोटिंग होगी, जबकि यहां पर उम्मीदवारों की संख्‍या 12 हो गई है।

आखिर कौन है प्रीती महापात्रा: अरबपति प्रीति महापात्रा मूल रूप से गुजरात की रहने वाली हैं। उनके पति हरी महापात्र गुजरात में बड़े बिजनेसमैन माने जाते हैं। प्रीती खुद भी बिजनेस वुमन हैं। कृष्णलीला फाउंडेशन नाम से एक गैर-सरकारी संस्था भी चलाती हैं। इस फाउंडेशन के तहत गुजरात, ओडिशा और महाराष्ट्र में शौचालय निर्माण का काम किया जाता है। हाल ही में गुजरात के नवसारी जिले में 10 हजार टॉयलेट बनवाकर सुर्खियां बटोरी थीं। प्रीती के पति हरिहर बीजेपी औऱ नरेंद्र मोदी के करीबी माने जाते हैं।

इसके अलावा प्रीति पीएम नरेंद्र मोदी विचार मंच की राष्ट्रीय अध्यक्ष भी है। उन्होंने यूपी से राज्यसभा के लिए अपना नामांकन दाखिल किया है। वो निर्दलीय हैं लेकिन माना जा रहा है कि उन्हे बीजेपी का समर्थन हासिल है। नामांकन दाखिल करने के दौरान प्रीती महापात्रा का प्रस्तावक बनने के लिए विधायकों में होड़ लगी गई थी। नामांकन के दौरान बीजेपी के कई बड़े नेता, पीस पार्टी के डा अयूब, सपा के बागी रामपाल, अपना दल और रालोद के विधायक मौजूद रहे।