मौत से पहले प्रत्यूषा ने अपनी दादी से क्या कहा, जानिए...

मुंबई (2 अप्रैल): प्रत्युषा बेनर्जी की दादी झरना बनर्जी ने कहा की कल रात करीबन 11 बजे से 11.30 बजे तक हमारी उससे बात हुई थी। वो खुश थी, हमने उससे पूछा था की शादी कब करोगी, तब उसने कहा था की पहले कुछ कमा ले फिर कर लेगे। दादी ने कहा कि हम कभी नहीं सोच सकते है की वो आत्म हत्या कर सकती है, कल वो काफी खुश थी हम कैसे मान ले की वो अब नहीं है।

प्रत्युषा के चाचा झोरजोरी बनर्जी ने बताया कि वो काफी हिम्मत वाली लड़की थी। हम सभी को काफी दुःख है, वो 31 जनवरी को अपने भाई के जनेऊ मे आई थी काफी खुश थी, हम सब उसकी शादी की सोच रहे थे। परिवार के लोगो के अनुसार कल शाम को प्रत्युषा से बात हुई थी तो उसने काम का प्रेसर बताया था और अपने घर जमशेदपुर आना चाह रही थी।

प्रत्युषा बीनर्जी मर्डर केस डिटेल मुम्बई पुलिस के अनुसार प्रत्युषा का ब्वायफ़्रेंड राहुल शाम चार बजे घर गया। जहां दरवाजा खुलवाने की कोशिश की जिसके बाद बाहर जाकर नई चाभी बनवाई और दरवाजा खोला तो प्रत्युषा को पंखे पर लकटा पाया। इसके बाद राहुल ने कुछ लोगो को बुलाया और प्रत्युषा को लेकर कोकिला बेन अस्पताल गया। जहां डॉक्टर्स ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। इसके बाद वो वहां से भाग गया।