कैंसर को हराकर पंजाबी प्रभजोत बन गया कनाडा का 'प्रधानमंत्री'

नई दिल्ली (1 मार्च): कई कंपटीटिव एक्जॉम्स में अक्सर पूछा जाता है कि अगर आपको देश का प्रधानमंत्री बना दिया जाये तो आप क्या-क्या करेंगे। इस सवाल पर ढेर सारी काल्पनिक कहानियां गढ़ दी जाती हैं। ... और अगर वास्तव में किसी को ऐसे ही कुछ दिनों  के लिए देश का प्रधानमंत्री बनने का मौका मिल जाये तो उसका क्या हाल होगा। डेली पोस्ट डॉट इन ने लिखा है कि मूलतः पंजाब के रहने वाले प्रभजोत लखनपाल को कनाडा का प्रधानमंत्री बनने का मौका मिला वो भी एक दिन के लिए नहीं पूरे एक सप्ताह के लिए।

ढाई साल पहले  जब वो कैंसर से संघर्ष कर रहे थे उस मेक ए विश फाउंडेशन ने उनसे पूछा कि वो क्या बनना चाहते हैं तो उन्होंने कनाडा का प्रझानमंत्री बनने की इच्छा व्यक्त की थी। इलाज चला वो ठीक भी हो गये। जब ठीक होकर घर लौटे तो यह बात भूल चुके थे, लेकिन मेक ए विश फाउंडेशन को याद था। फाउंडेशन ने कनाडा सरकार से प्रभजोत को एक सप्ताह का प्रधानमंत्री बनाने का आग्रह किया। और प्रभजोत को एक हफ्ते के लिए कनाडा का पीएम बना दिया गया। प्रभजोत का परिवार पंजाब के मंडी अहमदगढ़ का रहने वाला है थे।

प्रभजोत के पिता सुरिंदर लखनपाल ऑटो मैकेनिक की दुकान चलाते हैं। वो 1988 में कनाडा आ गए थे। टोरंटो एयरपोर्ट पर रॉयल कैनेडियन माउनटेड पुलिस के विशेष दस्ते और ‘मेक ए विश’ के ऑफिस बियरर्स ने उनका स्वागत किया। इसके बाद प्रभजोत को पार्लियामेंट हिल के पास शैतेऊ लॉरियर होटल ले जाया गया। प्रभजोत के पिता सुरिंदर पाल ने बताया कि अगले दिन कैनेडा के गवर्नर जनरल डेविड जॉन्सटन ने प्रभजोत अधिकारिक स्वागत किया। इतना ही नहीं पूरे प्रोटोकॉल को निभाते हुए कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिम ट्रदो ने उनसे भेंट की और देश के विकास के बारे में चर्चा भी की।