पीएफ अकाउंट वालों के लिए बुरी खबर!

नई दिल्ली (17 जुलाई): अगर आपके पास पीएफ खाता है तो शायद यह खबर आपके लिए बुरी हो सकती है, क्‍योंकि अगले महीने से पीपीएफ जैसी बचत योजनाओं पर सरकार ब्याज दरें कम करने की योजना बना रही है।

अगर सरकार अपने तय फॉर्मूले के हिसाब से ब्याज दरें तय करेगी तो 48 साल में पहली बार पीपीएफ पर ब्याज दर 8 फीसदी से नीचे चली जाएगी। दरों में ये कटौती 10 साल के सरकारी बॉन्ड के रिटर्न में कमी आने के कारण होगी।

दरअसल में पीपीएफ का ब्याज बॉन्ड रिटर्न से 25 बेसिस प्वांइट ज्यादा रखने का फार्मूला है। फिलहाल सरकार बॉन्ड पर औसत रिटर्न 7.5 फीसदी है जिसे देखते हुए पीपीएफ की दर 7.75 फीसदी हो सकती है। इसके अलावा सीनियर सिटिजन योजनाओं पर ब्याज दर 8.6 फीसदी से घटकर 8.25 फीसदी हो सकती है।