इलाहाबाद में लगे विवादित पोस्टर, देखिये कौन बना राम और कौन रावण

नई दिल्ली (27 जुलाई): यूपी के इलाहाबाद में एक बार फिर विवादित पोस्‍टर लगाए गए हैं। यहाँ लगे पोस्टर में मायावती को सूर्पणखा और दयाशंकर सिंह को लक्ष्मण के रूप में दर्शाया गया है। पोस्टर में कहा गया है कि ‘लक्ष्‍मण’ दयाशंकर सिंह ने मायावती की नाक काट दी। वहीं रावण के रूप में बसपा नेता नसीमुद्दीन सिद्दीकी को दर्शाया गया है, जबकि विभीषण के रूप में बसपा छोड़ने वाले स्‍वामी प्रसाद मौर्य मौजूद हैं। बीजेपी के यूपी चीफ केशव प्रसाद मौर्य को पोस्‍टर में राम बताया गया है और दयाशंकर सिंह की पत्‍नी स्‍वाति को ‘दुर्गा’ के रूप में चित्रित किया गया है। यही नहीं, मारीच के रूप में सतीश चंद्र मिश्रा भी पोस्‍टर में नजर आ रहे हैं। एेसे पोस्‍टर्स से भाजपा और बसपा के बीच जारी जंग और तीखी होने की आशंका है। पोस्‍टर जारी करने वाले छात्र नेता अनुराग शुक्‍ल के मुताबिक, ‘दयाशंकर ने जिस शब्‍द का प्रयोग किया है, उसका मतलब है कि बिजनेस करने वाली।