पोस्ट ऑफिस अकाउंट होगा डिजिटल, 34 करोड़ खाताधारकों को होगा फायदा

नई दिल्ली (08 अप्रैल): देश भर के करीब 34 करोड़ पोस्ट ऑफिस बचत खाता धारकों के लिए इस समय बड़ी खबर आ रही है। सरकार ने पोस्ट ऑफिस में बचत खाता धारकों को मई से पूरी तरह से डिजिटल बैंकिंग सर्विस देने का फैसला किया है।

सूत्रों के अनुसार, वित्त मंत्रालय ने पोस्ट ऑफिस के बचत खातों को आईपीपीबी खातों के साथ लिंकिंग की अनुमति दे दी है। इससे पोस्ट ऑफिस के खाताधारक अपने अकांउट से किसी भी बैंक अकाउंट में पैसे ट्रांसफर करने में सक्षम हो जाएंगे।

34 करोड़ सेविंग अकाउंट्स में से 17 करोड़ पोस्ट ऑफिस सेविंग्स बैंक अकाउंट्स हैं और बाकी मासिक इनकम स्कीम्स और आरडी आदि के हैं। आधिकारिक सूत्र ने बताया, 'IPPB को रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया संभालता है वहीं पोस्ट ऑफिस की बैंकिंग सर्विसेज वित्त मंत्रालय के अंतर्गत आती हैं। IPPB कस्टमर्स NEFT, RTGS और अन्य मनी ट्रांसफर सर्विसेज इस्तेमाल कर पाएंगे जो अन्य बैंकिंग कस्टमर्स करते हैं। एक बार पोस्ट ऑफिस सेविंग्स अकाउंट्स IPPB से लिंक हो गए, तब सभी कस्टमर्स दूसरे बैंकों की तरह ही कैश ट्रांसफर की सभी सर्विसेज इस्तेमाल कर पाएंगे।'  सूत्र ने बताया कि भारतीय डाक कि मई से भारतीय डाक सभी खाताधारकों को इस सुविधा का लाभ उठाने का मौका देगा। यह सर्विस पूरी तरह से वैकल्पिक है, अगर पोस्ट ऑफिस खाताधारक इसे अपनाना चाहेंगे तो उनके खाते को IPPB से लिंक कर दिया जाएगा।