95 साल में पहली बार EURO चैंपियन बना पुर्तगाल

नई दिल्ली (11 जुलाई): यूरो कप 2016 के फाइनल मुकाबले में मेजबान फ्रांस को 1-0 से हराकर पुर्तगाल पहली बार इस टूर्नामेंट में चैंपियन बना है। 1921 से इंटरनेशनल फुटबॉल खेल रहे पुर्तगाल का यह पहला बड़ा खिताब है।

इसी के साथ 56 साल में पहली बार फ्रांस को मेजर टूर्नामेंट में अपनी जमीन पर हार मिली है। इससे पहले पुर्तगाल का बेस्ट 2004 यूरो कप के फाइनल में पहुंचना रहा था। पुर्तगाल की टीम सांतोस के कोच बनने के बाद 14 मैच लगातार नहीं हारी है। उसने टूर्नामेंट के अपने 7 मैच में 9 गोल किए। खिताब जीतने पर पुर्तगाल को 189 करोड़ रुपए मिले। उपविजेता फ्रांस को 174 करोड़ रुपए मिले।

बने यह रिकॉर्ड -यूरो कप के 56 साल के इतिहास में यह पहला फाइनल हुआ जिसमें 90 मिनट में गोल नहीं हुआ। - फ्रांस पांचवीं बार किसी मेजर टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचा, जिसमें वह तीन बार जीता और दो बार हारा। -पुर्तगाली भले ही चैंपियन बना गया हो लेकिन कप्तान रोनाल्डो यूरो कप में सर्वाधिक गोल का रिकॉर्ड नहीं तोड़ सके। वे फ्रांस के प्लाटिनी (9 गोल) के साथ बराबरी पर रह गए। - इस खिताबी जीत के साथ पुर्तगाल 41 साल बाद फ्रांस को हराने में कामयाब हुआ। - 6 गोल दागने वाले ग्रिजमैन को गोल्डन बूट का अवॉर्ड मिला।