अभी तक नहीं मिला पुलिस को ओम पुरी का मोबाइल

नई दिल्ली ( 11 जनवरी ): दिग्गज अभिनेता ओम पुरी की मौत का राज गहराता जा रहा है और उनकी मौत से पर्दा हटाने के लिए मुंबई की ओशिवारा पुलिस लगातार कोशिश कर रही है। पुलिस को सबसे पहले बॉडी की फाॅरेंसिक रिपोर्ट का इंतजार है, जिससे मौत की असली वजह का पता लगाया जाएगा। पुलिस लगातार ओम पुरी के करीबी और साथ काम करने वालों के बयान ले रही है। कुछ लोगों के बयान अभी भी बाकी हैं। पुलिस को ओम पुरी के मोबाइल की भी तलाश है, क्योंकि अभी तक उनका मोबाइल किसी के हांथ नहीं लगा है। ओशीवारा पुलिस के लिए मोबाइल इस जांच का सबसे अहम हिस्सा है।

बताया जाता है कि ओम पुरी का मोबाइल इस समय उनकी पत्नी नंदिता पुरी के पास है। नंदिता फिलहाल अंतिम संस्कार के बाद के कामों में व्यस्त हैं, पुलिस सही समय देखकर नंदिता से ओम पुरी का मोबाइल अपने कब्जे में लेगी। मोबाइल के जरिये पुलिस को यह पता लगाना है कि ओम पुरी ने अपने अंतिम समय में क्या अपने किसी करीबी को फोन किया था और यदि किया था तो किससे बात हुई थी।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक, ओम पुरी का लीवर सिकुड़ा हुआ था, जिससे इस बात की आशंका जताई जा रही है कि ज्यादा शराब पीने की वजह से उनका हार्ट अटैक हुआ होगा। ओम पुरी का 66 साल की उम्र में शुक्रवार 6 जनवरी को निधन हो गया था। पुरी की न्यूड डेड बॉडी उनके घर में किचन के पास मिली थी। शुरुआती पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के अनुसार ओम पुरी के सिर के ऊपरी हिस्से में डेढ़ इंच गहरा और 4 सेंटीमीटर लंबे घाव का निशान था। साथ ही उनके शरीर में ऐल्कॉहॉल और पेनकिलर जैसी किसी दवा के अंश भी मिले हैं।