बिल्डर की 'महिला गैंग' ने की महिलाओं की पिटाई, तमाशबीन बनी पुलिस

मुंबई (5 फरवरी): मुंबई शहर में एक दिल दहला देने वाला वीडियो सामने आया है जिसमे एक परिवार की महिलाओं को पुलिस की मौजूदगी में कुछ महिलाओं ने जमकर मारा। बताया जाता है की इस मारपीट के पीछे एक बिल्डर का हाथ है। पुलिस घटना स्थल पर मौजूद थी लेकिन तमाशबीन बनी हुई थी। जब मामला बहुत बढ़ गया तो पुलिस हरकत में आई  लेकिन तबतक उपद्रवी महिलायें अपना काम कर चुकी थीं।

दरअसल ये मारपीट सोनमती जैस्वाल के परिवार के साथ हुई है जब ये मारपीट हुई तब सोनमती और उनकी दो बेटियां मौजूद थी जिसमे से एक के पास 6 साल की मासूम बेटी भी थी लेकिन मारपीट करनेवाली महिलाओं को ज़रा भी रहम नही आया। मारपीट सोनमती और उनकी दोनों बेटियों के साथ की गयी है दुर्भाग्य पूर्ण ये है की सभी पडोसी महज तमाशा  देखते रहे किसी ने छुड़ाने की कोशिश नही की।

दरअसल सोनमती की वडाला स्थित कमला राम नगर में एक किराना की दूकान है जिसे बीते  ओल्ड कस्टम विभाग ने बिना पूर्व सूचना दिए तोड़ दिया हालाँकि  सभी जरूरी कागजात है। सोनमती के बेटे सतेंद्र के मुताबिक़ न्युमेक डेवलपर के मालिक राजेश जैन इस जगह पर बिल्डिंग बनाना चाहते थे और आसपास की सभी झोपडियुओं को  तोड़ चुका है सिर्फ सोनमती की ही दूकान बची थी क्यूंकि उनका केस अदालत में लंबित है।

बताया जाता है की चल में रहने वाले और तड़ीपार उत्तम सिंह परदेशी उर्फ़ राजू परदेशी ने इस मारपीट में अहम भूमिका निभायी है जिसमे राजू की पत्नी भी मारपीट करती हुई साफ़ दिखी। लेकिन सबसे दुखद पहलु ये है की पुलिस ने पिछले हफ्ते के शुक्रवार को हुई इस घटना पर एक हफ्ते बाद मामला दर्ज किया लेकिन कोई गिरफ्तारी नही हुई है अलबत्ता मारपीट करने वालों ने भी पीड़ित परिवार के खिलाफ वडाला पुलिस ठाणे में मामला दर्ज करवा दिया है।