नॉर्थ कोरिया में फिल्म देखने पर मार दी जाती है गोली !

नई दिल्ली (20 मार्च): नॉर्थ कोरिया से 13 साल की उम्र में भागने वाली योनमी पार्क एक बार फिर चर्चा में हैं। वन यंग वर्ल्ड समिट में दो साल पहले दी उनकी स्पीच फेसबुक पर अब वायरल हो रही है। बीते 13 मार्च को इसे पोस्ट किया गया है, जिसे अब तक तीन लाख लोग लाइक कर चुके हैं, जबकि सात लाख लोग शेयर कर चुके हैं। योनमी ने अपनी स्पीच में नॉर्थ कोरियाई तानाशाह की क्रूरता के दिल दहला देने वाले किस्से दुनिया को बताए थे।  नॉर्थ कोरियाई शरणार्थी योनमी पार्क ने डबलिन में वन यंग वर्ल्ड समिट में जब स्पीच देनी शुरू की, तो उसके आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे थे।


- उसने बताया कि मौजूदा लीडर किम जोन्ग उन के पिता के शासन में उसकी फैमिली और उसके दोस्तों की बहुत बुरी हालत हो गई थी।

- पार्क ने बताया था कि जब वह 13 साल की थी तो उसकी मां ने उसे तस्करों से बचाने के लिए खुद अपने साथ रेप की सहमति दे दी थी।

- इसके बाद उसने अपने परिवार के साथ देश छोड़ दिया था। पार्क अमेरिका में रह रही है और सोशल एक्टिविस्ट है।

- उसने अपनी जिंदगी के सफर पर 'इन ऑर्डर टू लिव' नाम की किताब भी लिखी है।

- पार्क ने कहा था कि सिर्फ नॉर्थ कोरिया जैसे देश में पैदा होने की वजह से उसे और उसकी फैमिली को अत्याचार सहने के लिए मजबूर होना पड़ा।