पुलिस ने योगी आदित्य नाथ को किया नजरबंद !

नई दिल्ली (20 मार्च): मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को 11 साल पहले अलीगढ़ में हिरासत में लिया गया और दिल्ली में नजरबंद करके रखा गया। वह मौका ही ऐसा था। बात 2006 की है। शहर में दंगा भड़का हुआ था। प्रशासन ने अमन-चैन के लिए बाहरी सियासी नेताओं के आने पर रोक लगा रखी थी। प्रशासन की आंखों में धूल झोंकते हुए योगी यहां आ पहुंचे। वह पत्रकारों से बात कर ही रहे थे कि प्रशासन को भनक लग गई। सैकड़ों पुलिस-पीएसी जवानों के बीच उन्हें हिरासत में ले लिया गया। तब भी वह सांसद थे, पुलिस अफसर उन्हें जिले की सीमा के बाहर तक छोड़ने गए। पीएसी उन्हें दो दिन तक दिल्ली में नजरबंद किए रही। तत्कालीन भाजपा जिलाध्यक्ष और फिलवक्त मथुरा जिला प्रभारी ठा. रघुराज सिंह भी तमाम नेताओं के साथ दो दिन के लिए घर में नजरबंद किए गए थे।