हरियाणा में 'डायल 100' सेंट्रलाइज्ड कंट्रोल रूम होगा स्थापित

नई दिल्ली ( 17 मई ): हरियाणा में शीघ्र ही ‘डायल 100 सेंट्रलाइज्ड कंट्रोल रूम’ बनने जा रहा है, जिसकी रुपरेखा पुलिस विभाग ने तैयार कर ली है। अतिरिक्त मुख्य सचिव रामनिवास ने कहा कि इस कंट्रोलरूम के स्थापित होने से पीसीआर को शीघ्र सूचना मिल जाऐगी और पुलिस शीघ्र मौके पर पहुंच जाएगी।

 

राज्य में सुरक्षा व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए बुधवार को चंडीगढ़ में पुलिस अधिकारियों की एक बैठक हुई। इस बैठक में प्रदेश में ‘डायल 100 सेंट्रलाइज्ड कंट्रोल रूम’ स्थापित करने पर चर्चा हुई। बैठक के बाद गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव रामनिवास ने पत्रकारों से बातचीत की। उन्होंने बताया कि ये डायल 100 सेंट्रलाइजड कंट्रोल रूम होगा, जिसमें किसी भी आपातकालीन स्थिति में 100 नंबर पर कॉल करेंगे, वो कॉल कंट्रोल रूम में रिसीव होगी और कंट्रोल रूम से नजदीकी कोई भी पीसीआर में जानकारी को ट्रांसमिट कर दिया जाएगा।

अतिरिक्त मुख्य सचिव ने बताया कि इस व्यवस्था से एक उत्तरदायित्व स्थापित होगा। उन्होंने कहा कि कंट्रोल रूम में आने वाली सभी कॉल्स का समय नोट किया जाएगा और कितनी देर में पीसीआर मौके पर पहुंची उसका समय भी नोट होगा। इसके साथ ही पीसीआर वैन की भी ट्रैकिंग होगी। उन्होंने बताया कि पीसीआर में मौजूद पुलिसकर्मियों की भी जानकारी वीडियोग्राफिंग के जरिये मॉनिटर करने का प्रावधान किया गया है।

उन्होंने बताया कि प्रदेश में मित्र कक्ष एक ढांचा तैयार किया जा रहा है, जिसमें पुलिस स्टेश्न की जो सेवाएं जैसे पास्पोर्ट वेरिफिकेशन, आम्र्स लाइसेंस जैसी लगभग 40-50 सेवाएं जिनके लिए आम नागरिकों को पुलिस स्टेशन के चक्कर काटने पड़ते हैं, इस मित्र कक्ष ये सारी सुविधाएं ऑनलाइन उपलब्ध होंगी। उन्होंने बताया कि 300 के करीब मित्र कक्ष बनने हैं, एक मित्र कक्ष पर लगभग 15 लाख रुपये का खर्चा आऐगा।