INSIDE STORY: वायुसेना प्रमुख क्यों बोले- "कांटे की तरह चुभता हैं PoK", जानिए क्या है PoK की हकीकत...

नई दिल्ली (1 सितंबर): भारतीय वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल अरूप राहा ने आज पाकिस्तान को सख्त लहजे में चेतावनी दी। वायुसेना प्रमुख ने कहा पाक अधिकृत कश्मीर(PoK) हमारे शरीर में आज भी एक कांटे की तरह चुभता है। अगर पहले की लड़ाइयों में वायुसेना का सही इस्तेमाल होता तो हालात कुछ और होते। यह पहला मौका है, जब कश्मीर को लेकर किसी वायुसेना प्रमुख ने ऐसी बात कही है। 1947 के दौर को याद करते हुए वायुसेना प्रमुख ने कहा कि उस समय सीमा पार से आने वाले हमलावरों को वहां की सेना का पूरा समर्थन मिला था। वायुसेना को इस बात का भी मलाल है कि 1962 में चीन के साथ हुई जंग में भी उसे मौके नहीं मिले, वरना हालात वहां भी कुछ और होते। आइए जानते हैं क्यों वायुसेना प्रमुख ने PoK का मुद्दा उठाया...

- दिल्ली में एक इंडस्ट्री सेमिनार में वायुसेना प्रमुख ने पाक को सख्त लहजे में चेतावनी दी है। - जम्मू-कश्मीर में बड़ी तादाद में फौज, मिलिट्री इक्विपमेंट्स और साजो-सामान लाया जा रहा है। - राहा ने कहा, "1947 में सीमापार से सेना और सरकार ने हमलावरों की मदद की थी। - सीमा पार की सरकार ने कोशिश की कि जम्मू-कश्मीर में हालात बिगाड़े जा सकें। - बता दें कि अगस्त में ही ऑल पार्टी मीटिंग में नरेंद्र मोदी ने PoK को लेकर पाक को सख्त चेतावनी दी थी। - 15 अगस्त को लाल किले की प्रचीर से PoK का की जनता का धन्यवाद भी किया था।

क्या है PoK की हकीकत... - पीओके भारत का हिस्सा है जिसपर पाकिस्तान ने अवैध ढंग से कब्जा कर रखा है। - पाक के कब्जे वाले कश्मीर (PoK) का कुल क्षेत्रफल करीब 13 हजार वर्गकिलोमीटर है। - पीओके की राजधानी मुजफ्फराबाद है, पीओके में करीब 45 लाख लोग रहते हैं। - पीओके को लेकर पाकिस्तान हमेशा से दोहरेपन की नीति पर चलता रहा है। - एक तरफ तो वो इसे आजाद कश्मीर कहता है तो दूसरी ओर यहां के प्रशासन और राजनीति में सीधा दखल देता है। - और तो और पीओके का शासन इस्लामाबाद से सीधे तौर पर चलाया जाता है। - पाकिस्तान के दोहरे रवैये का सबूत इसी बात से मिलता है। - पीओके में प्रधानमंत्री से कश्मीर पर पाकिस्तान के नियंत्रण संबंधी हलफनामे पर दस्तखत कराया जाता है।

PoK में शांति से डरता है पाकिस्तान... - PoK के गिलगिट और बाल्तिस्तान में लोग भूख और अभावों से जूझ रहे हैं।  - वहां आतंक का राज है। पाकिस्तान शांति से डरता है, इसलिए यहां भ्रामक प्रचार कराता है।  - इस क्षेत्र के लोगों को मुख्यधारा से भी दूर रखा जाता है।  - पाकिस्तान ने अरबों रुपये खर्च कर आधे दशक से अधिक में नफरत की जो दीवार खड़ी की है, वो नहीं चाहता वो टूटे।

चीन की PoK में दखल... - चीन-पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडोर (सीपीईसी)योजना के तहत चीन पीओके में घुसा हुआ है। - चीन ने सीपीईसी परियोजनाओं में 46 अरब डॉलर यानी लगभग 3 लाख करोड़ रुपए निवेश किया है। - चीन की पीओके के रास्ते पाक तक ग्वादर पोर्ट सड़क और रेल लाइन बना रहा है। - पीओके के गिलगिट-बल्टिस्तान में चीन ने कराकोरम हाईवे बनाया है। - चीन पाक अधिकृत कश्मीर से सिल्क रोड भी निकालना चाहता है। - ऐतिहासिक सिल्क रोड मुख्य रूप से चीन को मध्य एशिया होते हुए यूरोप से जोड़ता है।  - इसके अलावा चीन 165 किलोमीटर लंबी जगलोतस्कार्दू हाईवे बना रहा है।  - गिलगित-बलतिस्तान में चीन 135 किलोमीटर लंबी रोड बना रहा है।  - कराकोरम हाईवे पर चीन ने फौजी इस्तेमाल के लिए 16 हवाई पट्टी बनाई है।  - गिलगित-बलतिस्तान में चीन की कंपनियां फोन लाइनें बिछा रही हैं।  - दोनों देशों में सीधे संचार के लिए चीन पीओके में ऑप्टिक फाइबर बिछा रहा है।