फ्रॉड के बाद खुली नींद, पीएनबी ने 3 दिन में किया 18000 कर्मचारियों का ट्रांसफर

नई दिल्ली (22 फरवरी): हमारे देश में किसी बड़ी घटना के बाद ही अधिकारियों और प्रशासन की नींद खुलती है। ऐसा ही कुछ देखने को मिला पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में हुए 11500 करोड़ के घोटाले के बाद भी। अब बैंक ने 3 दिन के अंदर करीब 18 हजार कर्मचारियों के ट्रांसफर के ऑर्डर जारी कर दिए हैं।

इस फैसले का सबसे ज्यादा असर ब्रांच में 3 साल से जमे अफसरों और 5 साल से जमे कर्मचारियों पर होगा। सीवीसी ने पब्लिक सेक्टर के बैंकों को एक एडवाइजरी जारी की थी। इसमें बैंकों को उनकी किसी एक ब्रांच में 31 दिसंबर, 2017 तक 3 साल पूरे कर चुके अफसरों का ट्रांसफर करने का आदेश दिया गया था। यह नियम बैंक के उन कर्मचारियों पर भी लागू होता है, जो एक ही ब्रांच में 5 साल से ज्यादा समय से जमे हुए हैं।   आपको बता दें कि हीरा कारोबारी नीरव मोदी और गीतांजलि ग्रुप्स के मालिक मेहुल चौकसी ने जिस घोटाले को अंजाम दिया था, उसमें मुख्‍य आरोपी गोकुलनाथ शेट्टी करीब 7 साल से एक ही ब्रांच में था। जिस वजह से उसने इतने बड़े घोटाले को अंजाम दिया और किसी को पता भी नहीं चल सकता। हालांकि अब गोकुलनाथ और उसके दूसरे साथी खरत समेत 12 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।