PNB घोटाला: सीनियर अधिकारियों पर कार्रवाई, इलाहाबाद बैंक की एमडी को हटाया जाएगा

नई दिल्ली(14 मई): PNB घोटाले के बाद सरकार की ओर से बड़ी कार्रवाई हुई है। पीएनबी के 3 बोर्ड लेवल के अधिकारी, 2 ईडी अफसरों और इलाहाबाद बैंक के एक एमडी को हटाया जाएगा।वहीं सीबीआई ने सोमवार को पहली चार्जशीट मुंबई स्पेशल कोर्ट में दायर कर दी। इसमें पीएनबी की पूर्व चीफ ऊषा अनंतसुब्रमण्यन और कुछ अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के नाम शामिल किए गए हैं।ऊषा अभी इलाहबाद बैंक की सीईओ और एमडी हैं। बता दें कि 13 हजार करोड़ के पीएनबी फ्रॉड केस का खुलासा फरवरी के पहले हफ्ते में हुआ था। इसमें हीरा कारोबारी नीरव मोदी और मेहुल चौकसी मुख्य आरोपी बनाए गए हैं।बता दें कि ऊषा अनंतसुब्रमण्यन 2015 से 2017 तक दो साल पीएनबी की एमडी और सीईओ रह चुकी हैं। पीएनबी फ्रॉड मामले में हाल ही में सीबीआई ने उनसे पूछताछ की थी। सीबीआई ने चार्जशीट में पीएनबी के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर केवी ब्रम्हाजी राव और संजीव शरण का नाम भी शामिल किया है। इसके अलावा बैंक के जनरल मैनेजर (इंटरनेशनल ऑपरेशन) नेहल अहद का नाम भी चार्जशीट में है।जांच एजेंसी ने चार्जशीट में मुख्य आरोपी नीरव मोदी के साथ फ्रॉड में शामिल उसके भाई निशाल मोदी के किरदार की भी जानकारी दी है। फ्रॉड में नीरव की कंपनी के एग्जीक्यूटिव सुभाष परब के रोल का भी चार्जशीट में जिक्र है।हालांकि, एजेंसी ने चार्जशीट में फ्रॉड के दूसरे आरोपी मेहुल चौकसी के किरदार की जानकारी नहीं दी है। माना जा है कि सीबीआई गीतांजलि ग्रुप से जुड़े मामले की जांच के आधार पर अपनी दूसरी चार्जशीटों में चौकसी का नाम शामिल कर सकती है।