पीएनबी घोटाला: नीरव मोदी पर आर्थिक शिकंजा, दुबई में 56 करोड़ की संपत्ति जब्त

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 6 नवंबर ): देश के दूसरे बंड़े बैंक पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के आरोपी नीरव मोदी और मेहुल चोकसी के खिलाफ शिकंजा कसने का सिलसिला जारी है। एक तरफ प्रवर्तन निदेशालय ने दुबई में नीरव मोदी और उसके फर्म की 56 करोड़ रुपये मूल्य की 11 संपत्ति जब्त की है तो दूसरी तरफ कोलकाता में मेहुल चोकसी की कंपनी के एक बड़े अधिकारी को गिरफ्तार किया गया है।

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मंगलवार को कहा कि उसने भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी की एक फर्जी कंपनी के निदेशक को कोलकाता से गिरफ्तार किया है। ईडी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, 'हमने कोलकाता हवाईअड्डे से दीपक कृष्णा राव कुलकर्णी को गिरफ्तार किया है। सोमवार देर रात उसके खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी हुआ था, जिसके आधार पर यह गिरफ्तारी की गई।'

कुलकर्णी को कोलकाता में ईडी अधिकारियों ने हवाईअड्डे पर हिरासत में ले लिया। वह हांगकांग से आ रहा था। हिरासत में लेने के बाद उसे ईडी कार्यालय ले जाया गया। पीएनबी धोखाधड़ी मामला चूंकि मुंबई में दर्ज है, इसलिए ईडी अधिकारी कुलकर्णी के लिए ट्रांजिट रिमांड की मांग करेंगे। वित्तीय जांच एजेंसी के अधिकारी ने कहा कि कुलकर्णी हांगकांग में गीतांजलि समूह के मालिक की फर्जी कंपनी का निदेशक है। उसे चोकसी के खिलाफ दायर आरोपपत्र में भी आरोपी बनाया गया है। साथ ही उसके खिलाफ गैर-जमानती वॉरंट भी जारी किया गया था।


एजेंसी ने अब तक देश में मोदी और उसके परिवार की 700 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति कुर्क की है। उसने भगोड़ा हीरा कारोबारी के खिलाफ आरोप पत्र दायर किया है जिसमें आरोप लगाया गया है कि उसने धन का शोधन किया और बैंकों की 6400 करोड़ रुपये से अधिक की रकम डमी विदेशी कंपनियों को भेजी। ये कंपनियां उसके और उसके परिवार के सदस्यों के नियंत्रण में थीं।

image sorce: Google