सऊदी और लेबनान में जंग जैसे हालात, PM हरीरी ने जल्द स्वदेश लौटने का किया ऐलान

नई दिल्ली (13 नवंबर): लेबनान और सऊदी अरब के बीच तनाव लगातार बढ़ता जा रहा है। इन सबके बीच सऊदी अरब से प्रधान मंत्री के पद से इस्तीफा देने वाले लेबनान के पूर्व प्रधानमंत्री साद अल -हरीरी ने जल्द स्वदेश लौटने की बात कही है। अपने एक इंटरव्यू में हरीरी ने कहा कि वो आजाद हैं और जल्द लेबनान लौटेंगे। 


हरीरी का यह इंटरव्यू लेबनानी राष्ट्रपति के मिशेल औउन के उस बयान के कुछ घंटे के बाद सामने आया है, जिसमें हरीरी को रियाद में नजरबंद रखने की बात कही गई थी।

आपको बाता दें कि लेबनान के प्रधानमंत्री हरीरी सऊदी अरब की राजधानी से पिछले हफ्ते इस्तीफा देने के बाद स्वदेश नहीं लौटे हैं। लेबनान ने सऊदी अरब पर हरीरी को अगवा करने का आरोप लगाया है। जबकि सऊदी अरब का कहना है कि हरीरी ने अपने सहयोगी लेबनानी संगठन हिजबुल्ला से जान को खतरा के चलते इस्तीफा दिया है। अमेरिका और फ्रांस ने लेबनान की संप्रभुता और स्थिरता के लिए अपना समर्थन व्यक्त किया है।

लेबनान के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि राष्ट्रपति मिशेल औउन ने अपने राजदूतों से कहा कि हरीरी का अपहरण किया गया है। उन्हें राजनयिक छूट मिलनी चाहिए। औउन ने सऊदी अरब से पूछा है कि अपने इस्तीफे की घोषणा के बाद से हरीरी अब तक क्यों नहीं लौटे। इस तरह के संकेत भी मिले हैं कि मिशेल ने हरीरी का इस्तीफा अभी तक स्वीकार नहीं किया है।

हरीरी की पार्टी फ्यूचर मूवमेंट ने भी कहा है कि वह पूरी तरह उनके साथ है। परिजनों और सहयोगी के संपर्क करने पर हरीरी का कहा कि वह ठीक हैं। स्वदेश लौटने के बारे में उन्होंने कहा कि यह ईश्वर की इच्छा पर है।