हम देश के लिए मर तो न सके देश के लिए जीकर दिखांएः पीएम

नई दिल्ली (15 अगस्त): आजादी के 70 जश्न को औपचारिक रूप से शुरु करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले की प्राचीर से तिरंगा फहराया। तीनो सैनाओं की टुकड़ियों ने सलामी दी। इसके बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने संवोधन में कहा...

- नौ हजार पदों की जल्द भर्ती होगी और इसके लिए कोई इंटरव्यू भी नहीं देना होगा

- स्वराज्य में शासन में दक्षता भी होनी चाहिए। 

- पासपोर्ट में पहले बहुत समय लगता था, लेकिन अब दो हफ्ते में लोगों को मिल जाता है।

- अब टैक्स के रिफंड के लिए कुछ हफ्ते लगते हैं।

- इनकम टैक्ट से सामान्य लोग परेशान है। मैं उसे बदलकर रहूंगा

- रेवले में अब एक मिनट में 15 हजार टिकटों की बुकिंग हो रही है

एम्स में अब मरीजों को दिखाने के लिए लाइन नहीं लगानी पड़ती, ऑनलाइऩ डॉक्टर से अप्वाइंटमेंट मिला है

दो साल में हमने अनगिनत पहलें की, सभी बताऊंगा तो बहुत समय लगेगा 

- शासन को संवेदनशील होने की जरूरत है, एक भारत श्रेष्ठ भारत' का सपना पूरा करेंगे

- सुराज का मतलब है कि सामान्य से सामान्य आदमी के जीवन में बदलाव लाना

अब सरकार आक्षेपों से घिरी हुई नहीं है, अपेक्षाओं से घिरी हुई है

भारत के पास लाखों समस्याएं हैं, तो सवा सौ करोड़ मस्तिष्क भी हैं, जो उनका समाधान करने की क्षमता रखती हैं

- आज मैं नीति की ही नहीं, निर्णय की भी बात कर रहा हूं

भारत के पास लाखों समस्याएं हैं,तो सवा सौ करोड़ मस्तिष्क भी हैं,जो उनका समाधान करने की क्षमता रखती हैं

- पीएम हो या ग्राम प्रधान हर किसी को आगे बढ़ने के लिए हर किकी को अपनी जिम्मेदारियां निभानी होगी...

- आज के दिन हम देश की महानविभूतियों को याद करते हैं। 

- वेद से विवेकानंद तक, सुदर्शनधारी मोहन से लेकर चरखाधारी मोहन तक, महाभारत के भीम से लेकर भीमराव तक हमारी एक लंबी विरासत है।

दल की पहचान बने या न बने देश की पहचान बननी चाहिए

- हमने पुरानी सरकारो की योजनाओं को जारी रखा है

- पुरानी सरकारों के रुके हुए कामों को पूरा किया है।

- 10 लाख करोड़ रुपये की अटकी योजनाओं को शुरु किया है। 

- आखिरी इंसान को लाभ कैसे मिले, इस पर ध्यान देना सरकार की प्राथमिकता है।

- गन्ना किसानों का बकाया अधिकांश बकाया दिया जा चुका है

- आप रेलवे में हमारे काम की रेंज देख सकते हैं। हम बायोटॉइलट से लेकर बुलेट ट्रेन तक आगे बढ़ रहे हैं

- हमें सरकार की पहचान बनाने से ज्यादा हिंदुस्तान की पहचान बनाने की चिंता

- हमने बीएसएनएल, एयर इंडिया और शिपिंग कारखाने को प्रॉफिट में लाकर खड़ा किया

- हमें भारत को वैश्विक मानकों के बराबर लाना पड़ेगा।

- हमने रैंकिग में तेजी से सुधार किया है।

- भारत विदेशी निवेश के लिए सबसे पसंदीदा देश बन गया है।

- वर्ल्ड इकोनिक फोरम ने कहा कि भारत 19 रैंक ऊपर आ चुका है। 

- घर की एक महिला शिक्षित है, सशक्त है तो वो गरीबी की रेखा से बाहर ला सकती है।

- हमने बुनकर को 50 रुपये मीटर पैसा बढाया। 

डाकघरों में पेमेंट बैंक बनाया ।

 पांच करोड़ गरीब परिवारों को एलपीजी देने का लक्ष्य

- किसानों के लिए कम प्रीमियम पर फसल बीमा योजना शुरू की गई

- 10,000 गावों में बिजली पहुंचाई गई 

- हम सब को सामाजिक बुराईयों को दूर करना होगा

- सशक्त देश, सशक्त समाज से बनता है

- सामाजिक न्याय से देश सशक्त बनता है

- सवा करोड़ देशवासी एक परिवार है, हमसे साथ मिलकर काम करना है

- हमारी बहनों को रात में भी काम करने का अवसर मिलना चाहिए, उन्हें सुरक्षा मिलनी चाहिए

- सवा करोड़ देशवासी एक परिवार है, हमसे साथ मिलकर काम करना है

-  हम उन सैनिकों को कैसे भूल सकते हैं, जो सीमा पर डटे हुए हैं

-  कोटि-कोटि युवाओं के हाथ में रोजगार हो, तभी देश आगे बढ़ेगा

- बिल्डरों की जमात के नकेल डाल दी है। अब हर आदमी का अपना घर होगा

- यह देश हिंसा को कभी सहन नहीं करेगा

- यह देश आतंक को सहन नहीं करेगा

- युवाओं से आह्वान हिंसा का रास्ता छोड़ो

- अपने माता-पिता के सपनों को पूरा करो

- गरीबी से आज़ादी, कोई आज़ादी नहीं हो सकती

- हम आपस में बहुत लड़ चुके, अब समय है कि हम गरीबी से लड़ें

- जब पेशावर में आतंकियों ने स्कूल के बच्चों पर गोलियां चलाईं...तब हिंस्दुस्तान की आंखों में आंसू थे

- गिलगिट,बलूचिस्तान और पाक के कब्जे वाले कश्मीर के लोगों का आभार 

- स्वतंत्रता सैनानियों की पेंशन में बढ़ाने का ऐलान करता हूं

-  हम देश के लिए मर तो सके देश के लिए जीकर दिखांए