पीएम बोले-कालेधन रखने वालों पर करूंगा सर्जिकल स्ट्राइक, उस दिन इनका हाल क्या होगा

नई दिल्ली ( 22 अक्टूबर ) : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को वड़ोदरा हवाई अड्डे पर ईको फ्रेंडली इंटिग्रेटेड टर्मिनल बिल्डिंग का उद्घघाटन के मौके पर कालेधन को लेकर कहा कि आपको मालूम होगा कि काला धन लाने ऐसी योजनाएं पहले भी अमल में आई थी, लेकिन इस सरकार की विश्वसनीयता का असर देखिये की 65 हज़ार करोड़ रुपये का काला धन, टैक्स के रूप में मुख्य धारा में आ गया।  65 हजार करोड़ रुपये सरकार को वापस मिले. पहले जो पैसे लीक होते थे, उनमें से अब तक एक लाख करोड़ रुपये सरकार को मिले। पीएम ने कहा कि ये सर्जिकल स्ट्राइक नहीं था, अगर सर्जिकल करेंगे तो अंदाजा लगाया जा सकता है कि क्या निकलेगा। सरकार की आय घोषणा योजना (आईडीएस) के तहत करीब 65,250 करोड़ रुपये के कालेधन का पता चला। पीएम मोदी से कालेधन को लेकर विपक्ष हमेशा सवाल पूछता है। शायद वह विपक्ष पर निशाना साधते हुए है कालेधन को लेकर सर्जिकल स्ट्राइक की बात कही। 

 

इस दौरान पीएम ने रेलवे की कायाकल्प के लिए रेलवे यूनिवर्सिटी बनाने का ऐलान किया। इसके बाद पीएम नवलखी मैदान में विकलांगों के लिए आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए और विकलांग जनों को जरूरी उपकरण बांटे। इस कार्यक्रम में पीएम ने लोगों से कहा कि उपकरण बांटना योजना का एक छोटा सा भाग है, हमारा फर्ज विकलांग बहनों और भाइयों की सेवा है। पीएम ने कहा, 'सभी निर्माण कार्यों में हमें विकलांग भाइयों और बहनों की जरूरत का ध्यान देना होगा। हमारा काम सिर्फ योजनाएं बनाना नहीं है, बल्कि जरूरतमंदों तक लाभ पहुंचाना है। 

सरकार की उपलब्धि गिनाते हुए पीएम मोदी ने कहा, 'गैस कनेक्शन पाने के लिए लोगों को काफी मशक्कत करनी पड़ती थी। सिलेंडर के लिए सांसदों से सिफारिश करानी पड़ती थी। हमने फैसला किया कि जिनके पास भी गैस कनेक्शन नहीं है, उन्हें कनेक्शन मुहैया कराया जाएगा। इस फैसले से सबसे ज्यादा महिलाओं को फायदा होगा। शिक्षा, स्वास्थ्य सुविधाओं की कमी और गरीबी जैसी समस्याओं का हल विकास जरिए ही संभव है। '