WATCH: 10 दिन में ही मोदी का ड्रीम प्रोजेक्ट हुआ 'डिस्चार्ज'

पीयूष आचार्य, वाराणसी (10 मई): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 1 मई को वाराणसी में जिस ई बोट का उद्घाटन किया था। महज दस दिन के भीतर ही उन ई बोट्स की हालत खस्ता हो गई है। हालात यह हैं कि ई बोट्स को चप्पू के सहारे चलाना पड़ रहा है।

दरअसल, हकीकत यह है कि ई-बोट की बैटरी कुछ देर तक चलने के बाद ही खत्म हो जा रही है और मजबूरी में नाविकों को चप्पू का सहारा लेना पड़ रहा है।इन नाविकों की माने तो इन ई-बोट के ऊपर सोलर पैनल को लगाया जाना था और उसी के सहारे ई बोट की बैटरी चार्ज होनी थी लेकिन अभी तक किसी भी ई-बोट पर सोलर पैनल नहीं लग पाया है।

हालात यह हो गए हैं कि अगर ई-बोट को बैटरी से चलाना हो तो बैटरी को बाहर चार्ज करने के लिए ले जाना पड़ता है इसी वजह से ज्यादातर ई बोट या तो बंद हो गई हैं या फिर उन्हें चप्पू से चलाना पड़ रहा है।

देखिए न्यूज़24 की रिपोर्ट...

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=IEr6z-z5EU8[/embed]