पीएम ने कहा, बैंकों का पैसा लेकर भागने वालों को नहीं छोड़ेंगे

नई दिल्ली (27 मार्च): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने असम के रंगपाड़ा में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए 9000 हजार करोड़ रुपए के कर्जदार विजय माल्या का नाम लिए बिना कांग्रेस पर निशाना साधा।

मोदी ने कहा, ''कांग्रेस ने अमीरों के लिए बैंकों को खोल दिया और इन अमीरों ने बैंकों के पैसे दबा लिए। अभी मैंने अभी कुछ स्क्रू टाइट किया है तो उनको पसीना छूट रहा है। जो भागे जा रहे हैं उन्हें जेल की सलाखें दिख रही हैं। कोई बचने वाला नहीं है। बैंको से जिन्होंने पैसा लूटा है वो पैसा बैंकों का नहीं हिंदुस्तान के गरीबों का पैसा है और मैं एक-एक पैसा वापस लेकर आउंगा।''

मोदी ने सीएम तरुण गोगोई के बयान का भी जबाव दिया। उन्होंने कहा, ''कल गोगोई जी ने बोला कि मोदी को विकास नहीं दिखता उनकी आंखों में मोतियाबिंद है। उन्होंने लोगों से पूछा आप को विकास दिखता है तो गोगोई जी को बताइए नहीं तो आप के सीएम कह देगें कि यहां की जनता को भी मोतियाबिंद है।''

सीएम तरुण गोगोई से जबाव मांगते हुए मोदी ने कहा आपके पास सत्ता थी, सारा खजाना आपके पास था, जरा हिसाब तो दो असम के लिए आपने क्या किया? गोगोई साहब ने कहा कि उनकी लड़ाई मेरे खिलाफ है। मैं कहता हूं हम लोकतंत्र में हैं। अगर हमें लड़ना है तो पॉवरटी और करप्शन के खिलाफ लड़ना होगा। सेंट्रल गवर्मेंट ने असम सरकार को गरीबों के लिए मकान बनाने को पैसे दिए। लेकिन उसमें से केवल एक तिहाई पैसा ही इस्तेमाल हुआ।