हमारे देश में सरकार नहीं, जनता देश चलाती है: पीएम मोदी

नई दिल्ली (27 जून): अमेरिका और पुर्तगाल के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नीदरलैंड पहुंचे। यहां हेग में पीएम मोदी ने भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित किया। मोदी मंगलवार को ही नीदरलैंड पहुंचे हैं। जैसे ही पीएम मोदी सभा स्थल पर पहुंचे भीड़ ने मोदी-मोदी के नारे के साथ उनका स्वागत किया। पीएम मोदी ने भोजपुरी में ''का हाल बा'' कहकर भाषण की शुरुआत की।


पीएम मोदी ने यहां कहा कि पासपोर्ट का रंग बदलने से खून के रिश्ते नहीं बदलते। नीदरलैंड में दूसरे सबसे ज्यादा भारतीय है। पासपोर्ट का रंग कोई सा भी हो, हमारे पूर्वज एक हैं। सालों बाद भी प्रवासी भारतीयों में देश जिंदा है। हर हिंदुस्तानी दुनिया के हर कोने में राष्ट्रदूत हैं। जो जड़ों से जुड़ा हो उसे कोई नहीं हिला सकता। भारत का कर्ज चुकाने से बड़ी कोई देशभक्ति नहीं है।


उन्होंने कहा कि हमारे बीच में दूरी नहीं है। मेरे देश में सवा सौ करोड़ लोग देश चलाते हैं। जनभागीदारी से देश कई गुना प्रगति कर सकता है, तेज गति से प्रगति कर सकता है।  


-नई सरकार ने जनभागीदारी को प्राथमिकता दी।


-विकास और गुड गर्वेंनेस से जनता की समस्या सुलझती हैं।


-आज दाल के भाव इतने कम हो गए कि कोई पूछता ही नहीं है।


-किसानों ने दाल की खेती बढ़ाई तो सस्ती हुई गरीब की थाली।


-खेती की महिलाओं की भागीदारी बढ़ी।


-भारत की विकास यात्री में महिलाओं की भागीदारी।


-जन धन खातों में ज्यादातर महिलाओं के खाते खुले।


-मुद्रा योजना से जॉब मांगने वाला जॉब देने वाला बने।


-7 करोड़ लोगों ने मुद्रा योजना का फायदा उठाया।


-मुद्रा योजना का लाभ लेने वालों में 70 फीसदी महिलाएं।


-कामकाजी महिलाओं को 26 हफ्ते की मैटरनिटी लीव दी।