PM मोदी की भतीजी का निधन, चीन से लौटते वक्त मिली थी जानकारी

अहमदाबाद (8 सितंबर): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भतीजी निकुंज पिछले 8-9 सालों से हार्ट की बीमारी से जूझ रहीं थीं और मंगलवार को उनका निधन हो गया। मोदी जब चीन से जी-20 समिट में हिस्सा लेकर भारत वापस आए तो उन्हें भतीजी के बहुत बीमार होने की खबर मिली।

पीएम ने वापस आकर सबसे पहले अपने छोटे भाई प्रहलाद मोदी को फोन कर उनकी बेटी निकुंज के स्वास्थ्य के बारे में पूछा। 41 साल की निकुंज मोदी पिछले 8-9 सालों से हार्ट की बीमारी से जूझ रहीं थीं और मंगलवार को उनका निधन हो गया। जब पीएम मोदी को अपनी भतीजी की गंभीर हालत के बारे में पता चला तो उन्होंने फोन कर निकुंज के ट्रीटमेंट के बारे में पूछा। परंतु निकुंज की हालत में सुधार नहीं हुआ और उनका निधन हो गया।

पीएम ने अपनी भतीजी के निधन के बाद भी परिवार को फोन कर अंतिम संस्कार के बारे में जानकारी ली। पीएम के भाई प्रहलाद मोदी ने बताया, 'नरेंद्रभाई ने चीन से वापस आते ही निकुंज के स्वास्थ्य के बारे में पूछा। उन्होंने अंतिम संस्कार के बाद भी फोन कर भी इससे जुड़े सभी जरूरी काम पूरे करने को कहा।'

निकुंजबेन भोपाल में अपने पति के साथ एक किराए के घर में रहती थीं। उनके बाद परिवार में उनके पति और दो छोटे बच्चे हैं। सूत्रों के मुताबिक निकुंजबेन की आर्थिक स्थिति कुछ सही नहीं थी। निकुंज के पति एक प्राइवेट फर्म में कंप्यूटर रिपेयरिंग का काम करते हैं और निकुंज इनकम बढ़ाने के लिए सिलाई और बच्चों को पढ़ाती थीं।