Blog single photo

जन्मदिन पर पीएम मोदी ने मां से लिया आशीर्वाद

पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने जन्मदिन के मौके पर मां हीराबेन के साथ खाना खाया। मां हीराबेन ने मोदी को तुअर दाल, पूरन पोली, देशी चने की सब्जी और आलू भिंडी की सब्जी परोसी। आधे घंटे की मुलाकात के दौरान पीएम मोदी ने मां से आशीर्वाद लिया और ढेर सारी बातें की

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (17 सितंबर): पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने जन्मदिन के मौके पर मां हीराबेन के साथ खाना खाया। मां हीराबेन ने मोदी को तुअर दाल, पूरन पोली, देशी चने की सब्जी और आलू भिंडी की सब्जी परोसी। आधे घंटे की मुलाकात के दौरान पीएम मोदी ने मां से आशीर्वाद लिया और ढेर सारी बातें की । इस बार जन्मदिन पर मोदी अपनी मां हीराबेन से उसी श्रद्धा, उसी प्रेम और उसी इत्मिनान से मिले जैसे हर बार मिलते हैं। जब भी मां से मिलते हैं तो मोदी के चेहरे पर चमक आ जाती है। बेटे से मिलकर मां के चेहरे पर भी चमक है। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने व्यस्त कार्यक्रम के बीच मां से मिलने पहुंचे और उनके साथ बैठकर प्यार भरी बातें की। साथ खाना खाया।

मोदी अपनी मां के पास बैठे। इत्मिनान से उनकी बातें सुनी। वक्त चाहे कितना भी कम क्यों ना हो मां से मोदी ढेरों बातें करते हैं। मां भी अपने बेटे से दुनिया जहां की बातें करती हैं। मोदी भी एकटक मां की बातें सुनते हैं और आशीर्वाद लेते हैं। दुनिया भर में मोदी मोदी है। हर तरफ मोदी की धूम है लेकिन सभी जानते हैं मोदी की असली ताकत 94 साल की मां हीराबेन ही हैं। जब भी मोदी मां से मिलते हैं ये पल मां-और बेटे दोनों के लिए ऊर्जा भर देने वाला होता है। घर के अंदर मां-बेटे की मुलाकात हो रही थी तो बाहर सैकड़ों लोग मोदी की एक झलक पाने के लिए खड़े थे। मोदी बाहर निकले तो लोगों को निराश नहीं किया। लोगों का अभिवादन किया और अगले पड़ाव के लिए चल पड़े।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जन्मदिन से पहले सोमवार की देर अपने गृह राज्य गुजरात पहुंचे। अपने चहेते नरेंद्र भाई के बर्थ डे के लिए अहमदाबाद शहर सज-धज कर तैयार है। हवाई अड्डे से लेकर राज भवन तक होर्डिंग और बैनर लगे हैं। 17 सितंबर 1950 को वडनगर में उनका जन्म हुआ था। पीएम मोदी के बर्थ डे पर पूरे गुजरात में नर्मदा महोत्सव मनाया जा रहा है। क़रीब 5000 जगहों पर नर्मदा की आरती होगी। इसके लिए खास तौर पर केवड़िया में कार्यक्रम किया जा रहा है। इस कार्यक्रम में उपस्थित रहने के लिए गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आमंत्रित किया है।

पीएम मोदी ने कहा कि आज ही निर्माण और सृजन के देवता विश्वकर्मा जी की जयंती भी है। नए भारत के निर्माण के जिस संकल्प को लेकर हम आगे बढ़ रहे हैं, उसमें भगवान विश्वकर्मा जैसी सृजनशीलता और बड़े लक्ष्यों को प्राप्त करने की इच्छाशक्ति बहुत आवश्यक है। उन्होंने आगे कहा कि आज जब मैं आपसे बात कर रहा हूं तो सरदार सरोवर बाँध और सरदार साहब की दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा, दोनों ही उस इच्छाशक्ति, उस संकल्पशक्ति के प्रतीक हैं।प्रधानमंत्री ने कहा कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों को 70 साल तक भेदभाव का सामना करना पड़ा है। इसके दुष्परिणाम, हिंसा और अलगाव के रूप में देश ने भुगता है। सरदार साहब की प्रेरणा से ही सरकार ने एक जरूरी फैसला देश के हित में लिया है। हम जम्मू, कश्मीर और लद्दाख में विश्वास और विकास की गंगा बहाएंगे। यह सेवक भारत की एकता और श्रेष्ठता के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है। हमारी सरकार ने 100 दिन में कई बड़े फैसले लिए हैं। हम आप सबको विश्‍वास दिलाना चाहते हैं कि हमारी नई सरकार पहले से भी तेज गति से काम करेगी और बड़े लक्ष्‍यों को हासिल करेगी।

Tags :

NEXT STORY
Top