लाओस में ओबामा से मिलेंगे पीएम मोदी

नई दिल्ली (7 सितंबर): आसियान सम्मेलन में भाग लेने के लिए लाओस गए भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बृहस्पतिवार को अमेरिकी राष्‍ट्रपति बराक ओबामा से मिलेंगे। मोदी और ओबामा की यह मुलाकात पाकिस्तान व चीन को घेरने को लेकर भी देखी जा रही है।

अपनी दो दिन की लाओस यात्रा के दौरान शिखर सम्मेलनों से अलग मोदी कई द्विपक्षीय बैठक करने वाले हैं। इसका आगाज जापानी प्रधानमंत्री शिंजो एबे से मुलाकात से होगा। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने अपने ट्विट संदेश में कहा, 'अभिनंदन वियेंतियाने। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो दिन के व्यस्त कूटनीति के लिए लाओस पहुंचे।'

मेजबान लाओस आज शाम सभी राष्ट्राध्यक्षों के लिए एक भोज का आयोजन करेगा। इसके बाद लाओस के प्रधानमंत्री थोंलोउन सिसोउलिथ के साथ मोदी की द्विपक्षीय वार्ता होगी। उम्मीद की जा रही है कि सिसोउलिथ के साथ मोदी की वार्ता में चर्चा आतंकवाद, नौवहन सुरक्षा, आपदा प्रबंधन, क्षेत्रीय समग्र आर्थिक साझेदारी, और एशिया-प्रशांत आर्थिक सहयोग के मुद्दों पर केन्द्रित होगी। भारत 21 सदस्यों वाले एपीईसी में शामिल होना चाहता है। यह तीसरा मौका है जब पीएम मोदी दोनों शिखर सम्मेलनों में हिस्सा ले रहे हैं।

भारत-आसियान शिखर सम्मेलन में 10 दक्षिण-पूर्वी एशियाई राष्ट्रों- इंडोनेशिया, मलेशिया, फिलीपींस, सिंगापुर, ब्रुनेई, कंबोडिया, लाओस, म्यांमार, वियतनाम तथा थाईलैंड के नेता हिस्सा लेंगे। वहीं, पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में 10 एशियाई राष्ट्रों के नेता हिस्सा लेंगे, जिनमें भारत, चीन, जापान, दक्षिण कोरिया, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, अमेरिका और रूस शामिल हैं।