मोदी के बयान से पाकिस्तान को लगी मिर्ची

नई दिल्ली (25 सितंबर): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पाकिस्तान पर आतंकवाद का एक्सपोर्ट करने का आरोप लगाया तो कराची से लेकर इस्लामाबाद तक पाक हुक्मरान तड़प उठे हैं। पड़ोसी ने कहा है कि यह बयान 'सोचे-समझे तरीके से छवि खराब करने के अभियान' का हिस्सा है ताकि कश्मीर मुद्दे पर दुनिया का ध्यान भटकाया जा सके।

पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया कि पीएम मोदी ने केरल की जनसभा में पाकिस्तान पर 'कीचड़ उछालने' की कोशिश की है। बयान में कहा गया, 'यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि भारतीय नेतृत्व भड़काऊ बयान और आधारहीन आरोपों के जरिए सुनियोजित ढंग से पाकिस्तान की छवि खराब करने से जुड़े अभियान से लगातार जुड़ा हुआ है। उच्च राजनीतिक स्तर पर इस तरह का गैर जिम्मेदाराना बर्ताव दुर्भाग्यपूर्ण है।'

बयान के मुताबिक, 'यह जाहिर है कि भारत कश्मीर में निर्दोष और अपनी हिफाजत करने में नाकाम जनता पर सुरक्षाबलों के अत्याचार से ध्यान हटाने की हड़बड़ी में इस तरह की कोशिशें कर रहा है।' पाकिस्तान की यह प्रतिक्रिया ऐसे वक्त में आई है, जब एक दिन पहले ही पीएम नरेंद्र मोदी ने केरल की एक जनसभा को संबोधित करते हुए पाकिस्तान और वहां के नेताओं पर जमकर निशाना साधा था। मोदी ने कहा था कि 18 जवानों की शहादत बेकार नहीं जाएगी और पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अलग-थलग कर दिया जाएगा।