पांच देशों के दौरे पर रवाना हुए PM मोदी, शुरूआत अफगानिस्तान से

नई दिल्ली(4 जून): प्रधानमंत्री शनिवार को पांच देशों के दौरे के लिए रवाना होंगे। पीएम अफगानिस्तान, कतर, स्विट्जरलैंड, अमेरिका और मैक्सिको का दौरा करेंगे। मोदी का ये दौरा 6 दिन होगा। 

मोदी पिछले दो साल में 50 से ज्यादा देशों का दौरा कर चुके हैं। इस दौरे पर टेक्नालॉजी ट्रांसफर, फॉरेन इन्वेस्टमेंट और बिजनेस पर फोकस रहेगा। इसके अलावा भारत न्यूक्लियर सप्लायर ग्रुप की मेंबरशिप पाने के लिए इन देशों से समर्थन भी जुटाएगा। इस पर इसी महीने फैसला होना है। 

अमेरिका, स्विट्जरलैंड और मैक्सिको इस 48 मेंबर वाले स्पेशल ग्रुप के मेंबर्स हैं। अमेरिका पहले ही भारत का सपोर्ट कर चुका है। मैक्सिको से लौटते वक्त मोदी का प्लेन फ्यूल भरवाने के लिए जर्मनी के फ्रैंकफर्ट में लैंडिंग करेगा।  मोदी इस मौके को जर्मनी के साथ दोतरफा बातचीत में भुना सकते हैं। इसी तरह मोदी पिछले साल आयरलैंड में रुके थे।

अफगानिस्तान का दौरा

- यहां मोदी 551 मीटर लंबे सलमा डैम की शुरुआत करेंगे।

- भारत की मदद से बने सलमा डैम पर 1437 करोड़ रुपए खर्च हुए हैं। 1976 में यह डैम गृहयुद्ध में तबाह हो गया था। 

- अफगानिस्तान के हेरात प्रांत में चिश्ती शरीफ के पास हरिरुद नदी पर भारत ने सलमा बांध बनवाया है।

- इस बांध को बनाने का फैसला जनवरी 2006 में लिया गया था। उसी साल काम शुरू हुआ। यह 107 मीटर ऊंचा, 550 मीटर लंबा और 500 मीटर चौड़ा है।

- वैसे तो ये डैम एक साल पहले ही बन गया था, लेकिन पिछले साल जुलाई में इसके गेट बंद कर दिए गए।

- नदी में पानी का बहाव कम होने से करीब 20 किलोमीटर लंबे और 3.7 किलोमीटर चौड़े इस डैम को भरने में एक साल लग गया।इस पर 42 मेगावाट बिजली भी बनाई जाएगी। इससे करीब 80 हजार हेक्टेयर खेतों में सिंचाई भी हो सकेगी।

- बता दें कि मोदी ने पिछले साल अफगानिस्तान के नए पार्लियामेंट हाउस का भी उद्घाटन किया था। ये भी भारत ने ही बनवाया है