गुवाहटी: इंवेस्टर्स समिट में बोले PM मोदी, देश की सोच बदल गई है

नई दिल्ली ( 3 फरवरी ): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी असम में शनिवार से शुरु होने जा रहे दो दिवसीय ग्लोबल इंवेस्टर्स समिट एडवांटेज असम का उद्घाटन करने गुवाहाटी पहुंच चुके हैं। वे यहां 'एडवांटेज असम-ग्लोबल इंवेस्टर्स समिट 2018' के उद्घाटन समारोह को संबोधित किया। पीएम मोदी के साथ इस समिट में भूटान के प्रधानमंत्री शेरिंग टोबगे भी उपस्थित रहे। शनिवार 3 फरवरी से शुरु होने जा रहे दो दिवसीय इस कार्यक्रम में राज्य के निर्माण अवसरों की उपलब्धता को दिखाया जाएगा।

इसके साथ ही विदेशी और घरेलू निवेशकों के लिए भू-रणनीतिक लाभ के बारे में भी बताया जाएगा। बता दें कि समिट का आयोजन असम सरकार और केंद्र सरकार के फिक्की के तत्वाधान में किया गया है।

पीएम मोदी ने कहा, 'भारत की ग्रोथ स्टोरी में और गति तभी आएगी जब देश के पूर्वोत्तर में रहने वाले लोगों का, इस पूरे क्षेत्र का संतुलित विकास भी तेज गति से हो। पिछले साढ़े तीन वर्ष में केंद्र सरकार की तरफ से और पिछले डेढ़ वर्ष में, असम सरकार की तरफ से किए गए प्रयासों का परिणाम दिखाई देने लगा है। आज जितने व्यापक पैमाने पर ये आयोजन हो रहा है, वो कुछ वर्ष पहले तक कोई सोच भी नहीं सकता था।'

पीएम मोदी ने कहा कि समिट में आपकी उपस्थिती दिखा रही है कि असम किस तरीके से विकास के पथ पर आगे बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि भूटान के पीएम की मौजूदगी दोनों देशों की मजबूत दोस्ती को दर्शा रही है। साथ ही ये एडवांटेज असम आसियान के लिए एक्सप्रेस वे है।

देश की सोच बदल गई है। अब हताशा की जगह हौसला और आशा ने ले ली है। देश में दोगुनी रफ्तार से विकास हो रहा है। हम सभी योजनाओं को उस तरफ ले जा रहे हैं, जो गरीब, निम्न मध्यम वर्ग और मध्य वर्ग का कल्याण करें। हमारी योजनाएं जिंदगी को आसान बनाने के लिए हैं। 

पीएम ने कहा, 'बजट में घोषित आयुष्मान भारत, स्वास्थ्य बीमा योजना से देश के 45 से 50 करोड़ लोगों को फायदा होगा। इससे दूसरी और तीसरी श्रेणी के शहरों में बड़े अस्पतालों की स्थापना की संभावना बढ़ गई है।' कार्यक्रम में मोदी ने यह भी कहा कि भारत की आर्थिक वृद्धि की रफ्तार तभी तेज होगी जब पूर्वोत्तर और यहां के लोगों का चौतरफा विकास होगा।