Blog single photo

पीएम मोदी के थाईलैंड दौरे का आज दूसरा दिन, 16वें आसियान-भारत शिखर सम्मेलन में लेंगे हिस्सा

पीएम मोदी के थाईलैंड दौरे का आज दूसरा दिन है। कल बैंकॉक में हाउडी मोदी की तर्ज पर सवास्दी मोदी कार्यक्रम किया। भारतीय को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने आर्टिकल 370 और करतारपुर कॉरिडोर का भी जिक्र किया। इसके साथ ही पीएम मोदी ने भारत-म्यामांर-थाईलैंड हाई-वे की चर्चा की। उन्होंने कहा कि हाई-वे के शुरू होने से दोनों देशों का कारोबार बढ़ेगा। वहीं अपने दौरे के दूसरे दिन पीएम मोदी आज 16वें आसियान-भारत शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे। कल पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन और RCEP समझौते पर बातचीत करने वाले देशों की तीसरी शिखर बैठक में शामिल होंगे।

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (3 नवंबर): पीएम मोदी के थाईलैंड दौरे का आज दूसरा दिन है। कल बैंकॉक में हाउडी मोदी की तर्ज पर सवास्दी मोदी कार्यक्रम किया। भारतीय को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने आर्टिकल 370 और करतारपुर कॉरिडोर का भी जिक्र किया। इसके साथ ही पीएम मोदी ने भारत-म्यामांर-थाईलैंड हाई-वे की चर्चा की। उन्होंने कहा कि हाई-वे के शुरू होने से दोनों देशों का कारोबार बढ़ेगा। वहीं अपने दौरे के दूसरे दिन पीएम मोदी आज 16वें आसियान-भारत शिखर सम्मेलन में  हिस्सा लेंगे। कल पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन और RCEP समझौते पर बातचीत करने वाले देशों की तीसरी शिखर बैठक में शामिल होंगे। 

पीएम के तीन दिवसीय थाईलैंड दौरे को व्यापार और सुरक्षा के लिहाज से काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है । पीएम के इसस यात्रा को भारत के "एक्ट ईस्ट पालिसी" के निर्णायक चरण के तौर पर देखा जा रहा है । इससे पहले  पीएम मोदी ने अमेरिका के ह्यूस्टन में हुए 'हाउडी मोदी' के तर्ज पर शनिवार को थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक के निमिबुत्र स्टेडियम में 'स्वास्दी मोदी' कार्यक्रम को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने अपनी सरकार की उपलब्धियों को बताते हुए आर्टिकल 370 को खत्म किए जाने का खास अंदाज में जिक्र किया। भारतीय मूल के लोगों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने थाईलैंड के साथ भारत के हजारों साल के ऐतिहासिक संबंधों का भी जिक्र किया। थाई भाषा के शब्द स्वास्दी का इस्तेमाल अभिवादन के लिए किया जाता है। 

अपने संबोधन में प्रधानमंत्री मोदी ने थाईलैंड के साथ भारत के ऐतिहासिक संबंधों का जिक्र किया। इसके अलावा उन्होंने अपनी सरकार की उपलब्धियों के बारे में बताया और कहा कि भारत की पिछली 5 साल की उपलब्धियों से दुनियाभर में भारतीय मूल के लोग गर्व कर रहे हैं। अब दुनियाभर में भारतीय मूल के लोग गर्व से बताते हैं कि हम भारतीय मूल के हैं। उन्होंने कहा कि 60 साल बाद भारत में कोई सरकार 5 साल का कार्यकाल पूरा करने के बाद उससे भी ज्यादा बहुमत से सत्ता में आई है। प्रधानमंत्री ने भारतवासियों को छठ पर्व की भी बधाई और शुभकामनाएं दीं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी थाईलैंड की 3 दिन की यात्रा पर बैंकॉक पहुंचे हैं। वह रविवार को आसियान की बैठक में हिस्सा लेंगे। इस दौरान वह कई द्विपक्षीय और अंतरराष्ट्रीय मसलों पर आसियान देशों के राष्ट्राध्यक्षों से बातचीत करेंगे। इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन की शुरूआत 'नमस्कार, केम छो। सत श्री अकाल। वड़क्कम। नमस्कारम' से की।

मोदी ने कहा कि प्राचीन स्वर्णभूमि थाईलैंड में आप सबके बीच आकरके ऐसा लग रहा है कि आपने इस स्वर्णभूमि को भी अपने रंग से रंग दिया है। यह माहौल, ये भेष-वूषा हर तरह से अपनेपन का अहसास दिलाती है। अपनापन झलकता है। आप भारतीय मूल के हैं सिर्फ इसलिए नहीं, बल्कि थाईलैंड के कण-कण में, जन-जन में अपनापन नजर आता है। यहां की बातचीत में, खानपान में, परंपराओं में, आर्किटेक्चर में कहीं न कहीं भारतीयता की महक हम जरूर अनुभव करते हैं।

पूरी दुनिया ने अभी-अभी दीपावली का त्योहार मनाया है। यहां थाईलैंड में भी भारत के पूर्वांचल से काफी संख्या में लोग आए हैं। और आज पूर्वी भारत में और अब करीब-करीब पूरे देश में सूर्यदेव और छठी मइयां की उपासना का महापर्व धूमधाम से मनाया जा रहा हैं। मैं छठ पूजा की बहुत-बहुत शुभकामनाएं देता हूं।

ज्यादा जानकारी के लिए देखिए न्यूज 24 की ये रिपोर्ट...

Tags :

NEXT STORY
Top