PM मोदी ने श्रीलंकाई तमिलों से चाय के जरिए जोड़ा नाता

कोलंबो (12 मई): प्रधानमंत्री मोदी इन दिनों दो दिनों के श्रीलंका दौरे पर है। अपने दौरे के दूसरे पीएम मोदी ने डिकोया में तमिल समुदाय  के एक कार्यक्रम में हिस्सा लिया और उन्हे संबोधित किया। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि श्रीलंका चाय की तासरा बड़ा एक्सपोर्टर है और यह आप लोगों की मेहनत का नतीजा है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि आपके और मेरे बीच एक कॉमन बता है और वो यह है कि मेरा भी चाय से बड़ा पुराना नाता रहा है।


इससे पहले पीएम मोदी ने यहां भारत की मदद से बने अस्पताल का उद्घाटन किया। पीएम ने राजधानी कोलंबो में अंतरराष्ट्रीय बैशाख दिवस पर आयोजित समारोह में हिस्सा लिया। यह समारोह भगवान बुद्ध की जयंती के मौके पर आयोजित किया जाता है। इस अवसर पर मोदी ने कहा कि मुख्‍य अतिथि के तौर पर आमंत्रित कर सम्‍मान देने के लिए वह श्रीलंका के राष्‍ट्रपति, प्रधानमंत्री और वहां के लोगों के बेहद आभारी हैं। वहीं मोदी ने कहा कि वह मानते हैं कि बौद्ध धर्म का शांति संदेश विश्‍व भर में बढ़ती हिंसा का जवाब है।


इस मौके पर प्रधानमंत्री ने यह भी बताया कि एयर इंडिया इस साल अगस्‍त से कोलंबो और वाराणसी के बीच डायरेक्‍ट फ्लाइट शुरू करेगी। उन्‍होंने कहा कि इससे बुद्ध की कर्मभूमि जाने वालों को आसानी होगी। वहीं हमारे तमिल भाई-बहन भी काशी विश्‍वनाथ की नगरी वाराणसी जा सकेंगे।


इससे पहले बृहस्‍पतिवार को श्रीलंका पहुंचे मोदी का प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे समेत उनकी कैबिनेट के सदस्यों ने एयरपोर्ट पर गर्मजोशी से स्‍वागत किया। मोदी को एयरपोर्ट पर ही गार्ड ऑफ ऑनर और सलामी दी गई। बाद में प्रधानमंत्री ने श्रीलंकाई राष्ट्रपति मैत्रिपाला सिरिसेना से मुलाकात की। उनसे भेंट के तुरंत बाद मोदी ने ट्वीट कर कहा, 'राष्ट्रपति मैत्रिपाला से मिलकर बेहद खुशी हुई'।


वहीं, सिरिसेना ने अपने ट्वीट में कहा, 'कोलंबो में एक बार फिर इतने महान इंसान से मिलकर बहुत अच्छा लगा।'इससे पहले श्रीलंकाई सरकार की ओर से मोदी की यात्रा को लेकर दिखाए गए उत्साह के मद्देनजर कोलंबो रवाना होने से पूर्व प्रधानमंत्री ने दोनों देशों के प्राचीन रिश्तों का उल्लेख किया।