उर्जित पटेल के इस्तीफे पर मोदी-जेटली समेत इन नेताओं ने दी प्रतिक्रिया



न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (10 दिसंबर): रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) के गवर्नर उर्जित पटेल ने इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने इसके पीछे व्यक्तिगत कारणों का हवाला दिया है। आपको बता दें कि केंद्रीय बैंक की स्वायत्तता सहित कुछ मुद्दों को लेकर सरकार के साथ मतभेद की खबरों के बाद यह अटकलें लगाई जा रहीं थीं कि वह पद छोड़ सकते हैं। 


माना जा रहा है कि गवर्नर के इस्तीफे के बाद अब डेप्युटी गवर्नर भी पद छोड़ सकते हैं। उर्जित पटेल ने आरबीआई की जिम्‍मेदारी 4 सितंबर 2016 को संभाली थी लेकिन उनके कार्यकाल के दूसरे महीने में ही देश की इकोनॉमी की दिशा बदल गई।


उर्जित पटेल के इस्तीफे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि उनकी कमी खलेगी। अपने ट्वीट संदेश में प्रधानमंत्री ने लिखा कि उर्जित पटेल अपने पीछे एक बड़ी विरासत छोड़ गए हैं और हमें उनकी कमी खलेगी।






प्रधानमंत्री ने आगे लिखा कि उर्जित पटेल एक क्षमतावान अर्थशास्त्री हैं और उन्हें अर्थव्यवस्था के छोटे-बड़े पहलुओं की समझ है, प्रधानमंत्री मोदी ने लिखा की उर्जित पटेल की वजह से बैंकिंग सिस्टम में अनुशासन आया है। प्रधानमंत्री ने आगे लिखा कि उर्जित पटेल की अगुवाई में रिजर्व बैंक वित्तीय स्थिरता लाने में कामयाब हुआ है। 


दमनकारी मोदी सरकार में एक और संस्थान आरबीआई का साख गिरी: रणदीप सुरजेवाला, कांग्रेस प्रवक्ता



आरबीआई प्रमुख का इस्तीफा देश में आर्थिक आपातकाल: नेता, आम आदमी पार्टी। 




उर्जित पटेल के इस्तीफे पर वित्त मंत्री अरूण जेटली ने ट्वीट कर कहा- शुभकामना देता हूं और यह कामना करता हूं कि वे लंबे समय तक सार्वजनिक सेवा में काम करते रहें।





जिस तरह से RBI गवर्नर को पद छोड़ने के लिए मजबूर किया गया वह भारत की मौद्रिक और बैंकिंग प्रणाली पर एक धब्बा है। बीजेपी सरकार ने वास्तव में वित्तीय आपातकाल को लगा दिया है। देश की प्रतिष्ठा और विश्वसनीयता अब खतरे में हैंः अहमद पटेल, कांग्रेस