मोदी सरकार की बड़ी कूटनीतिक कामयाबी, 2022 में भारत में होगा G- 20 शिखर सम्मेलन

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 2 दिसंबर): शनिवार का दिन भारत के लिए एतिहासिक रहा है। इसकी वजह इटली ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उस गुजारिश को स्वीकार कर लिया है जिसमें उन्होंने 2022 का जी-20 शिखर सम्मेलन भारत में आयोजित करने का आग्रह किया था। अर्जेंटीना के ब्यूनस आयर्स में चल रहे जी20 शिखर सम्मेलन के दौरान पीएम मोदी ने कहा, '2022 में भारत की आजादी की 75वीं सालगिरह है। हमने इटली से अनुरोध किया था कि यदि वह 2022 की जगह 2021 में अपने यहां जी-20 सम्मेलन का आयोजन कर ले तो 22 की मेजबानी हमें मिल सकती है। उन्होंने हमारी गुजारिश को स्वीकार कर लिया है। मैं उनका आभारी हूं और पूरे विश्व के नेताओं को 2022 में भारत आने का न्यौता देता हूं।'


आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को यहां यूरोपीय परिषद के अध्यक्ष डोनाल्ड टस्क, यूरोपीय आयोग के अध्यक्ष जीन क्लॉड जंकर और जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल से मुलाकात की। इस दौरान पीएम ने सभी तरह के आतंकवाद से लड़ने के लिए संयुक्त प्रयास समेत भारत-यूरोपीय संघ के बीच संबंधों को मजबूत करने के तरीकों पर चर्चा की। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट कर कहा, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जी20 शिखर सम्मेलन से इतर जंकर और डोनाल्ड टस्क से मुलाकात की। चर्चा सभी तरह के आतंकवाद से लड़ने के लिए संयुक्त प्रयास समेत भारत-यूरोपीय संघ के रिश्ते मजबूत करने पर केंद्रित रही।’ 


आपको बता दें कि जी -20 विश्व की 20 प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं के वित्त मंत्रियों और केंद्रीय बैंक के प्रमुखों का एक संगठन है जिसमें 19 देश और यूरोपीय संघ शामिल है। 7 देशों के साथ इसकी स्थापना 1999 में की गई थी लेकिन 2008 में आई वैश्विक आर्थिक मंदी के बाद इस फोरम में और देशों को भी जोड़ा गया।