इंडोनेशिया: पीएम मोदी ने भारतीय समुदाय को किया संबोधित, हमारी सरकार में बदल रहा है भारत

नई दिल्ली ( 30 मई ): इंडोनेशिया में पीएम मोदी ने बुद्धवार को भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाईं। पीएम मोदी ने अपने भाषण में कहा कि 4 साल में भारत का सम्मान बढ़ा है। उन्होंने कहा कि देश में वही कानून, दफ्तर, अफसर हैं, लेकिन सरकार बदली है और अब देश में बदलाव हो रहा है। पीएम ने पिछली सरकारों पर तंज कसते हुए कहा कि वे गर्व से कहते थे कि हमने कानून बनाए और हमे गर्व है कि हम कानून खत्म कर रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि दुनिया में भारत का मान बढ़ा है। उन्होंने कहा, हमें नए भारत का निर्माण करना है। 2022 तक नए भारत के स्वप्न को साकार करने के लिए हमें काम शुरू करना है। जब भारत अपनी स्वाधीनता के 75 वर्ष का जश्न मनाएगा।पीएम ने भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि 1962 में जकार्ता एशियन गेम्स में गुरुनाम सिंह ने इंडोनेशिया के लिए मेडल जीता था। मोदी ने कहा कि एक दौर वह था, जब आपके पूर्वजों को अलग-अलग परिस्थितियों की वजह से भारत छोड़ना पड़ा था। मोदी ने कहा कि भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है, वहीं इंडोनेशिया में भी लोकतंत्र की जड़ें बहुत गहरी हैं।पीएम मोदी ने कहा कि पिछले चार साल में भारत ने दुनिया को आगे बढ़ाने में सक्रिय भूमिका अदा की। दुनिया की सबसे ओपन इकॉनमी में से एक भारत में रिकॉर्ड स्तर पर विदेशी निवेश हो रहा है। ईज ऑफ डुइंग बिजनस में भारत 142वीं रैंक से 100 नंबर पर आ चुका है। भारत की रेटिंग में सुधार हुआ है, और यह सुधार मोदी ने नहीं बल्कि अंतरराष्ट्रीय एजेंसी मूडीज ने किया है। संबंध के मजबूत होने का एक और आधार हमारे लोग हैं, आप सब लोग हैं। हमारे यहां बड़ी आबादी 35 साल से कम है। हमारी सरकार के काम की स्पीड और स्केल काफी तेज है।'मोदी ने कहा कि इंडोनेशिया समेत 106 देशों में हमने ई वीजा की सुविधा दे दी है। 1400 कानूनों का खत्म करने का काम किया। पीएम ने अपने भाषण में जीएसटी का भी जिक्र किया। पीएम ने कहा कि अब हम ईज ऑफ लिविंग पर काम कर रहे हैं, एक ऐसे सिस्टम का निर्माण कर रहे हैं जो न सिर्फ पारदर्शी हो, बल्कि सेंसटिव भी हो।प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले ढाई साल में भारत में नौ हजार से अधिक स्टार्ट अप रजिस्टर हुए हैं। भारत में दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा स्टार्ट अप पारिस्थितिकी तंत्र निर्मित हो रहा है।