बजट सत्र में पॉलिटिकल फंडिंग और चुनाव सुधार पर सभी पार्टियों के साथ बैठक करेंगे पीएम मोदी

नई दिल्ली (3 जनवरी): नोटबंदी की वजह से बड़े पैमाने पर देशवासियों को भारी दिक्कतें हुई है। इन मुश्किलों के बीच आम लोगों में राजनीतिक दलों की फंडिंग को लेकर तरह-तरह के सवाल उठने लगे हैं। भारी तादाद में लोगों का मानना है कि राजनीतिक पार्टियों को बड़े पैमाने पर ब्लैकमनी के जरिए फंडिंग की जाती है। लिहाजा पीएम मोदी को राजनीतिक दलों में ब्लैकमनी के खेल को खत्म करने के लिए कदम उठाना चाहिए।

पॉलिटिकल फंडिंग और चुनाव सुधार के लिए देश में बनते माहौल के बीच इस मुद्दे पर सरकार और विपक्ष में भी हलचल तेज हो गई है। सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री मोदी बजट सत्र में सभी राजनीतिक पार्टियों के साथ चर्चा कर सकते हैं।