योजनाओं पर बोले पीएम मोदी- हम टालना नहीं, टकराना जानते हैं

नई दिल्ली (15 अगस्त): आजादी की 69वीं सालगिरह के मौके पर पीएम मोदी ने लाल किले देश के लोगों को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि हम टालना नहीं, टकराना जानते हैं। हमारी सरकार समस्याओं से मूंह मोड़ने के बजाय उससे लड़ती है और सुलझाती है। 

उन्होंने कहा कि हमारी सरकार संवेदनशील, जवाबदेश औऱ पारदर्शी है। हम योजनाएं बनाते हैं और उसे लागू करवाने के लिए लड़ते भी हैं। हमने सरकार के कार्य करने की शैली को भी बदला है। 

पहले सालभर में 50 हजार अर्जियां आती थीं। अब दो-दो करोड़ लोग अप्लाई करते थे। पहले सिफारिश न हो तो 4-6 महीने जांच पड़ताल में चले जाते थे। हमने उस स्थिति को बदला। करीब हफ्ते-दो हफ्ते में नागरिकों के हाथ में पासपोर्ट पहुंचा दिया जाता है। अब सिफारिश की जरूरत नहीं। कोई टालमटोल नहीं है। 2015-16 में पौने दो करोड़ पासपोर्ट हमने दिए हैं।

बिल्डरों की जमात बड़ी अच्छी प्रिंटेड बुकलेट दिखाते हैं। आम आदमी को तकनीकी नॉलेज नहीं होता। वह फंस जाता है। समय पर मकान नहीं मिल पाता। वह पूरी पूंजी लगा देता है। हमने रियल एस्टेट बिल लाकर नकेल डाल दी है। हम टालना नहीं, टकराना जानते हैं।