मुस्लिम लड़की ने मोदी को लिखा खत, तुरंत मिला पढ़ाई के लिए आर्थिक मदद

नई दिल्ली (21 मार्च): प्रधानमंत्री मोदी और उनके दफ्तर को रोजाना सैकड़ों और हजारों चिट्ठियां आती है। इसके बावजूद वो और उनका दफ्तर इन चिट्ठियों के प्रति काफी सजग रहते हैं। हर चिट्ठी को ठीक से पढ़ा जाता है और उसपर कार्रवाई भी की जाती है। इसी लिस्‍ट में एक और नया उदाहरण शामिल हो गया है। पीएम मोदी ने अब कर्नाटक की रहने वाली एक ऐसी मुसलमान लड़की की मदद की है जिसने उच्‍च शिक्षा हासिल करने का सपना देखा था।


प्रधानमंत्री ऑफिस यानी PMO की ओर से मांड्या की रहने वाली बीबी सारा को एक चिट्ठी भेजी गई और इस चिट्ठी के जरिए उन्‍हें एक भरोसा दिया गया कि वह अपनी उच्‍च शिक्षा जारी रख सकती हैं। बीबी सारा MBA की पढ़ाई कर रही हैं और पीएम मोदी ने उन्‍हें उनकी पढ़ाई जारी रखने के लिए आर्थिक मदद का वादा किया था। PMO की ओर से आए जवाब में उन्‍हें सुनिश्चित किया गया कि अगले 10 दिनों के अंदर उन्‍हें एजुकेशन लोन मिल जाएगा।


सारा, कर्नाटक के मांड्या जिले के शुगर टाउन की रहने वाली हैं। उन्‍हें सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया से पीईएस कॉलेज से अपनी पढ़ाई पूरी करने के लिए लोन चाहिए था। बैंक की ओर से पूरी प्रक्रिया में काफी देर हो रही थी। इसके बाद सारा और उनके पिता ने पीएम मोदी को एक चिट्ठी लिखी और उनसे मदद मांगी। 10 दिनों के अंदर मदद मिलने का जवाब PMO की ओर से आया और सारा का विजया बैंक की ओर से 1.5 लाख का एजुकेशन लोन मिल गया। सारा ने इस पर कहा, 'करोड़ों लोगों वाले इस देश में पीएम मोदी ने उनकी एक चिट्ठी का जवाब दिया। मैं उनसे व्‍यक्तिगत तौर पर मिलना चाहती हूं और उन्‍हें मिलकर उनका शुक्रिया अदा करना चाहती हूं।'