हमारी पार्टी का अपमान कर रही है बीजेपी: आशीष पटेल

Photo: News24 

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (29 दिसंबर): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के यूपी दौरे के बीच सहयोगी दलों ने बीजेपी पर दबाव बनाना शुरू कर दिया है। अपना दल ने पीएम मोदी की गाजीपुर रैली में भी हिस्सा नहीं लिया। पीएम की रैली से पहले अपना दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष आशीष पटेल ने बीजेपी पर बड़ा हमला किया। आशीष पटेल ने कहा कि बीजेपी उनकी पार्टी का अपमान कर रही है और पीएम के कार्यक्रमों में अनुप्रिया पटेल को नहीं बुलाया जाता। आशीष पटेल ने कहा कि बीजेपी से सीटों को लेकर कोई नाराजगी नहीं है।

बीजेपी के सहयोगी दल सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के मुखिया ओमप्रकाश राजभर ने बीजेपी पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी अपने सहयोगियों को बस चुनाव के समय याद करती है और फिर भूल जाती है। उन्होंने कहा कि बीजेपी सहयोगियों को यूज एंड थ्रो करती है। राजभर की पार्टी ने एक बयान जारी करते हुए लिखा की पीएम के कार्यक्रम के लिए जो निमंत्रण पत्र भेजा गया है उसपर महाराजा सुहेलदेव के नाम के साथ राजभर उपनाम नहीं लिखा गया है, जोकि उक्त जातीय समाज के इतिहास को मिटाने का प्रयास है। ऐसे में इसके विरोध स्वरूप एसबीएसपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और संगठन ने पीएम के कार्यक्रम के बहिष्कार का फैसला किया है।

वहीं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी गाजीपुर के बाद वाराणसी पहुंच गए हैं। वाराणसी को वो बुनियादी सुविधाओं से जुड़ी पौने तीन सौ करोड़ की 29 परियोजनाओं की सौगात देंगे। इस दौरे में वो फिलीपींस के सहयोग से स्थापित अंतराष्ट्रीय चावल अनुसंधान केन्द्र और दूरसंचार विभाग की कंप्रिहेंसिव पेंशन स्कीम का भी शुभारंभ करेंगे। करीब साढ़े चार साल के दौरान प्रधानमंत्री का अपने संसदीय क्षेत्र में ये 16वां दौरा है, लेकिन पीएम के कार्यक्रम के बीच अपना दल नाराज है और ओमप्रकाश राजभर ने पीएम के कार्यक्रम से किनारा कर लिया है।इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने गाजीपुर को करोड़ों की सौगात दी। पीएम मोदी ने गाजीपुर में मेडिकल कॉलेज की नींव रखी। उन्होंने महाराजा सुहेलदेव पर डाक टिकट भी जारी किया। इस दौरान मोदी ने कांग्रेस पर जबर्दस्त हमला बोला। मोदी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने किसानों की मदद करने के बजाय उनको सिर्फ लॉलीपाप थमाया और उनके साथ धोखा किया। मोदी ने कहा कि आपका चौकीदार ईमानदारी से काम कर रहा है और चौकीदार की वजह से कुछ चोरों की रातों की नींद उड़ी हुई है।