पीएम ने एशिया के सबसे बड़े पुल का किया उद्घाटन, भूपेन हजारिका ब्रिज दिया नाम

नई दिल्ली ( 26 मई ): पीएम मोदी ने तीन साल पहले आज 26 मई के दिन ही प्रधानमंत्री पद की शपथ ली थी। आज तीन साल पूरे होने पर पीएम मोदी असम के दौरे पर हैं जहां वो नदी पर बने देश के सबसे लंबे पुल का उदघाटन किया है। यह पुल 9.15 किलोमीटर लंबा है। इसके बाद यहां आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मोदी ने इस ब्रिज का नाम मशहूर गायक भूपेन हजारिका के नाम पर रखा है।


ढोला और सदिया के बीच बने इस पुलसे हर दिन पेट्रोल और डीजल में दस लाख रूपये तक की बचत होगी। पीएम मोदी पुल के उद्घाटन के अलावा एम्स अस्पताल सहित कई अन्य परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे।


इस पुल से असम और अरुणाचल प्रदेश के बीच यात्रा का समय छह घंटे से कम होकर एक घंटा रह जाएगा। इस पुल पर भारी से भारी सामान ले जाना संभव होगा। बताया जा रहा है कि इस पुल से सेना का 60 टन वजनी टैंक भी गुजर सकता है। इसके अलावा यह रिएक्टर स्केल पर 8.0 की तीव्रता वाला भूकंप भी झेल सकता है।